Tuesday, 23 July, 2024

विकास प्रोजेक्ट समय पर पूरे नहीं तो ठेकेदार व अधिकारी जिम्मेदार- धारीवाल

मौके पर निरीक्षण: स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत कोटा में चारों ओर चल रहे हैं विकास कार्य
न्यूजवेव @ कोटा

स्वायत्त शासन मंत्री शांति धारीवाल ने कहा कि कोटा में चल रहे विकास कार्यों में गुणवत्ता एवं समय सीमा की अनदेखी हुई तो ठेकेदार एवं संबंधित अभियंताओं को इसका खामियाजा भगुतना पडेगा। के भी जिम्मेदारी तय की जायेगी।
स्वायत्त शासन मंत्री शुक्रवार को स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत शहर में चल रहे विकास कार्यों का मौके पर जाकर निरीक्षण किया। उन्होंने कहा कि वर्ल्ड क्लास सुविधाएं विकसित होने से कोटा सुुरक्षित शहर दिखाई देगा। यहां निकट भविष्य में टूरिज्म बढे़गा।
अस्पताल के नये ओपीडी सितंबर तक पूरे हों


उन्होंने चेतावनी दी कि किसी भी कार्य को निर्धारित समय पर पूरा नहीं करने पर ठेकेदार को प्रतिदिन के अनुसार जुर्माना देना होगा। साथ में अभियंताओं को भी नोटिस जारी किए जायेंगे। उन्होंने एमबीएस अस्पताल एवं जेके लोन अस्पताल में निर्माणाधीन नवीन ओपीडी ब्लॉक सिंतबर,21 तक पूरा कराने के निर्देश दिए। उन्होंने मेडिकल कॉलेज कोटा के प्रिंसिपल डॉ.विजय सरदाना सेे नये उपकरण खरीदने, मोर्चरी एवं संक्रमित रोगों नवीन ब्लॉक निर्माण के प्रस्तावों पर चर्चा की।
इंदिरा गांधी सर्किल फ्लाईओवर धीमा क्यों
स्वायत्त शासन मंत्री ने गुमानपुरा में इंदिरा गांधी सर्किल पर निर्माणाधीन फ्लाईओवर में देरी पर संवेदक को फटकार लगाई। उन्होंने निर्देश दिये कि साइड की सड़कों का निर्माण निर्धारित समय पर पूरा करे। सड़क एवं दुकानों के मध्य निर्माण अधूरा नहीं छोडेें। गुमानपुरा पैट्रोल पम्प तिराहा से ट्रांसफॉर्मर शिफ्ट कर यातायात प्लान बनाने के निर्देश दिए। मल्टीपरपज स्कूल में निर्माणाधीन पार्किंग जोन जल्द पूरा करने के निर्देश दिये।
कोटा को पशुओं से छुटकारा मिलेगा
स्वायत्त शासन मंत्री ने देवनारायण आवासीय योजना में चारदीवारी निर्माण, मुख्य द्वार एवं आवासों की गुणवत्ता को परखा तथा दीवारों पर रंग-रोगन एवं मुख्य द्वार को राजस्थानी शैली में तैयार करने के निर्देश दिए। उन्होंने यहां सामुदायिक भवन, स्कूल एवं चिकित्सालय निर्माण को जल्द पूरा करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि आवासीय नगर में प्रस्तावित डेयरी प्लांट के लिए स्थान हो जिससे पशुपालक उचित दामों में दूध बेच सकें और कोटा शहर के नागरिकों को मवेशियों से फैल रही गंदगी से छुटकारा मिल सके।
जिला कलक्टर उज्ज्वल राठौड़, महापौर कोटा उत्तर मंजू मेहरा, यूआईटी के पूर्व अध्यक्षत रविन्द्र त्यागी, नगर विकास न्यास के ओएसडी आरडी मीणा, सचिव राजेश जोशी, उपसचिव चन्दन दुबे, अतिरिक्त मुख्य अभियंता ओपी वर्मा सहित अधिकारी एवं जनप्रतिनिधि इस दौरान साथ रहे।

(Visited 382 times, 1 visits today)

Check Also

हॉस्टल्स से यूडी टैक्स की वसूली आवासीय श्रेणी में हो

जयपुर में विधायक संदीप शर्मा के साथ यूडीएच मंत्री झाबर सिंह खर्रा से मिला प्रतिनिधिमंडल …

error: Content is protected !!