Saturday, 15 May, 2021

वीरांगनाओं की आंख में कभी आंसू न आने पाएं: ओम बिरला

लोकसभा अध्यक्ष ने किया विनोदकलां गांव में शहीद हेमराज मीणा की प्रतिमा का अनावरण
न्यूजवेव @कोटा

कोटा जिले में सांगोद के पास विनोदकलां गांव मंगलवार को देशभक्ति के स्वर से गूंज उठा। शहीद हेमराज मीणा की स्मृति में नवनिर्मित शहीद पार्क में चारों ओर राष्ट्रध्वज तिरंगा लहराते रहे। खचाखच भरे पार्क में भारत माता की जय एवं ‘जांबाज शहीद हेमराज मीणा अमर रहे’ के जयघोष गूंजते रहे। राष्ट्रप्रेम के इस वातावरण में लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने शहीद हेमराज मीणा की प्रतिमा का अनावरण किया तो उनकी याद में ग्रामीणों का आंखें नम हो उठी।
याद दिला दें कि 2019 में पुलवामा के आतंकी हमले में राजस्थान से विनोदकलां गांव के वीर सैनिक हेमराज मीना ने प्राण न्यौच्छार कर दिये थे। तब वीरंांगना मधुबाला ने लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला को अपना भाई मानकर उनसे शहीद पति की प्रतिमा गांव में ही लगाने का आग्रह किया था। भाई का फर्ज निभाते हुए लोकसभा अध्यक्ष बिरला ने गंाव में अमर शहीद पार्क विकसित कर देखरेख में शहीद हेमराज की प्रतिमा का निर्माण करवाया। मंगलवार को राष्ट्रभक्ति के माहौल में प्रतिमा अनावरण हुआ।

प्रतिमा से लिपट रो पड़ी वीरांगना
शहीद के गांव में लोकसभा अध्यक्ष बिरला ने जैसे ही प्रतिमा का अनावरण किया, वीरांगना मधुबाला भावुक हो उठी। प्रतिमा से लिपट कर ने अश्रपूरित नेत्रों से काफी देर तक रोती रही। बेटी रीना और अंतिमा ने अपनी मां को ढांढस बंधाया। यह दृश्य देख सभी ग्रामीणों की नम आंखों से आंसू झलक पडे़।

बेटा ऋषभ लगाता रहा नारे
पिता की प्रतिमा को गर्व से निहारते हुये शहीद हेमराज मीणा का छोटा सा बेटा ऋषभ सबकी आंखों का तारा बना रहा। कार्यक्रम में उसने केसरी फिल्म के वीरतापूर्ण गीत पर भावपूर्ण प्रस्तुति दी जिससे सबकी आंखों में आंसू आ गये। प्रतिमा अनावरण के बाद उसने जोश के साथ भारत माता की जय और वंदे मातरम के नारे लगाए तो सबने उसके सुर में सुर मिला दिए।

लोकसभा अध्यक्ष ने दिया मामा सा दुलार


मंच पर आते ही शहीद हेमराज मीणा के पुत्र ऋषभ को लोकसभा अध्यक्ष बिरला ने गोद में ले लिया। ऋषभ को दुलारते देख पांडाल में बैठे ग्रामीणों ने कहा कि मामा अपने मासूम भांजे को दुलार रहे हैं। बिरला ने जब ऋषभ से पूछा कि वह बड़ा होकर क्या बनेगा तो ऋषभ ने कहा कि वह भी पापा की तरह सैनिक बनना चाहता है। बिरला ने जब सबको उसके मन की भावना बतायी तो समूचा पांडाल तालियां से गूंज उठा।

कृतज्ञतावश माला नहीं पहनी
प्र्रतिमा अनावरण समारोह में लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने माला पहनने से मना कर दिया। उन्होंने कहा कि आज का दिन शहीद हेमराज के परिजनों के प्रति कृतज्ञता व्यक्त करने का है। वे शहीद के पिता हरदयाल मीणा के पास गए और उन्हें माला पहनाकर उनका आशीर्वाद लिया। उन्होंने वीरांगना मधुबाला का भी सम्मान किया।

वीरांगनाओं व पूर्व सैनिकों का भी सम्मान
लोकसभा अध्यक्ष बिरला ने करगिल संघर्ष तथा अन्य सैन्य घटनाओं में शहीद क्षेत्र के वीर सैनिकों की वीरांगनाओं तथा पूर्व सैनिकों का भी सम्मान किया। उन्होंने आश्वस्त किया वे सैनिक परिवारों की समस्याओं को प्राथमिकता से दूर करने का प्रयास करेंगे। मंगलवार को सांगोद सहित पास के सभी गांवों में अभूतपूर्व उत्साह देखने को मिला। बड़ी संख्या में युवा मोटर साइकिलों पर तिरंगा लगाए रैली के रूप में कार्यक्रम स्थल पहुंचे। कनवास चौराहे व आजादपुरा गांव में स्वयं बिरला ने तिरंगा रैलियों को रवाना किया।

शहीदों के परिवारों को सहेजना है
लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने कहा कि हमारे वीर जवान समर्पण भाव से देश की रक्षा करते हैं। ऐसे में हमारा दायित्व है कि सर्वोच्च बलिदान देने वाले किसी भी सैनिक के परिवार के सदस्यों में आंसू नहीं आएं। उन्होंने कहा कि आतंकवाद के खिलाफ एकजुट होने के साथ देश सेवा के लिए प्रत्येक युवा को सैनिक की भूमिका में आना होगा। जहां सैनिक सीमा पर मुस्तैद रहते हैं, वहीं युवा समाज के अक्षम और वंचित वर्ग के कल्याण के लिए स्वयं को समर्पित करें। उन्होंने कहा कि भारत कभी किसी पर हमला नहीं करता। भारत हमेशा शांतिपूर्ण सह अस्तित्व और सौहार्द्र का प्रणेता रहा है। लेकिन जब देश को चुनौती दी जाती है तो हमारे सैनिक उसका मुंहतोड़ जवाब देते हैं। विनोदकलां की यह प्रतिमा समूचे हाड़ौती क्षेत्र के लिए वीरता की प्रेरणा बनेगी।

स्मारक के लिए जगह उपलब्ध करवाए सरकार
सांगोद के पूर्व विधायक हीरालाल नागर ने कहा कि वीरांगना मधुबाला की भावनाओं के अनुसार राज्य सरकार यहां जगह आवंटित करे ताकि प्रतिमा स्थापित की जा सके। कार्यक्रम को विधायक रामनारायण मीणा ने भी संबोधित किया। विनोदकलां से लौटते समय लोकसभा अध्यक्ष बिरला ने कुंदनपुर गांव में बस स्टैंड के निकट थड़ी पर चाय पी। उनको देखकर बड़ी संख्या में लोग वहां जमा हो गए। किसी ने बिरला को अपनी समस्या बताई तो किसी ने उनके साथ फोटो खिंचवाई। बिरला ने उनसे खेती सहित कई विषयों पर चर्चा की। पूर्व विधायक हीरालाल नागर, पूर्व जिला परिषद सदस्य प्रेम गोचर आदि साथ रहे।

(Visited 69 times, 1 visits today)

Check Also

 कोरोना से मौत होने पर पत्रकारों के परिवार को मिलेगी 15 लाख रुपये की सहायता

उडीसा में कामकाजी पत्रकार फ्रंटलाइन कोविड वारियर्स घोषित न्यूजवेव @ भुवनेश्वर मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने …

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: