Sunday, 16 June, 2024

राजस्थान के 24 शहरों में 1.76 लाख स्टूडेंट्स देंगे NEET-UG परीक्षा

न्यूजवेव@कोटा

मेडिकल प्रवेश परीक्षा नीट-यूजी,2023 आगामी 7 मई रविवार को 497 शहरों के परीक्षा केंद्रों पर आयोजित होगी। जिसमें 20 लाख 59 हजार परीक्षार्थी पेन-पेपर मोड में परीक्षा देंगे। इस वर्ष नीट परीक्षा में गत वर्ष की तुलना में 1,86,653 परीक्षार्थी अधिक पंजीकृत हुये हैं।
एनटीए के जोनल कॉर्डिनेटर डॉ. प्रदीप सिंह गौड़ ने बताया कि इस वर्ष नीट-यूजी में राजस्थान में कुल 1,76,902 विद्यार्थी पंजीकृत हुए हैं, जिनके लिये 24 शहरों में 354 परीक्षा केन्द्र बनाए गए है। राजस्थान में 24 शहरों जयपुर, कोटा, उदयपुर, बाड़मेर, नागौर, बारां, चितौड़गड़, सिरोही, धोलपुर, हनुमानगढ़, पाली, भीलवाड़ा, करौली, सीकर, भरतपुर, श्रीगंगानगर, दौसा, सवाईमाधोपुर, झुन्झुनू, बीकानेर, अलवर, चूरू, जोधपुर, अजमेर में यह परीक्षा आयोजित होगी।
कोटा के 41 परीक्षा केंद्रों पर 20,496 छात्रायें

डॉ. गौड ने बताया कि इस वर्ष शिक्षा नगरी कोटा के 41 परीक्षा केंद्रों पर 20,496 परीक्षार्थी पेपर देंगे। कोटा में 99 प्रतिशत छात्राओं एवं दिव्यांग छात्रों को परीक्षा केंद्र आवंटित किये गये हैं, शेष विद्यार्थियों को जयपुर सहित अन्य शहरों में सेंटर आवंटित किये गये हैं।
परीक्षा केंद्रों पर सुरक्षा के कडे़ इंतजाम
एनटीए के महानिदेशक आईएएस डॉ.विनीत जोशी के निर्देशानुसार, सभी परीक्षा केन्द्रों पर पेपर की सुरक्षा के लिये मोबाईल जेमर, बायोमेट्रिक मशीन, फ्रिस्किंग, मेटल डिडेक्टर की व्यवस्था की गई है। हर परीक्षा केन्द्र पर सुरक्षा के लिये पुलिसकर्मी व प्राइवेट सिक्यूरिटी एजेंसी के जवान तैनात रहेंगे। प्रत्येक परीक्षा केन्द्र पर एनटीए द्वारा सेना से सेवानिवृत अधिकारी ऑब्जर्वर तथा डिप्टी ऑब्जर्वर के रूप में लगाये गये हैं। सभी केन्द्रों पर सीसीटीवी कैमरे लगे होंगे, जिसे सीधे एनटीए के दिल्ली मुख्यालय से देखा जा सकता है।
सभी सेंटर्स पर परीक्षार्थियों को सुबह 11 बजे से दोपहर 1ः30 बजे तक प्रवेश कार्ड पर दिए गए समयानुसार प्रवेश दिया जाएगा। दोपहर 1ः30 बजे सभी केंद्रों के मुख्य प्रवेश द्वार बन्द कर दिए जाएगे। पेपर दोपहर 2ः00 बजे से 5ः20 बजे तक होगा। परीक्षार्थी को प्रवेश पत्र, पानी की पारदर्शी बोतल, सरकार द्वारा जारी आईडी दिखाकर प्रवेश दिया जाएगा। परीक्षार्थी को पेन सेन्टर पर ही दिए जायेंगे। परीक्षार्थी को केवल टेक्स्ट बुकलेट लेकर ही बाहर जायेंगे।
3 मई तक प्रवेश पत्र जारी नहीं
एनटीए ने परीक्षा केंद्रों के शहरों की सूचना 30 अप्रैल को जारी कर दी लेकिन 3 मई तक नीट के लाखों परीक्षार्थी अपने प्रवेश पत्र जारी होने का इंतजार करते रहे। समय पर प्रवेश पत्र नहीं मिलने से अभिभावक भी चिंतित हैं। उनका कहना है कि इस ऑफलाइन परीक्षा में प्रत्येक शहर में विद्यार्थियों की भीड होने से ठहरने व होटलों में कमरे बुक करने में परेशानी हो रही है। एनटीए को छात्रहित में 7 दिन पहले प्रवेश पत्र जारी कर देना चाहिये। जिससे बच्चे बाहरी सेंटर्स पर पहुंचने की चिंता से मुक्त हो सकें।

(Visited 261 times, 1 visits today)

Check Also

‘कामयाब कोटा’ अभियान में जिला कलक्टर ले रहे हैं क्लास

न्यूजवेव @कोटा जिला कलक्टर डॉ.रविंद्र गोस्वामी इन दिनों ‘कामयाब कोटा’ मिशन के तहत कोचिंग संस्थानों …

error: Content is protected !!