Monday, 18 October, 2021

जेईई-मेन,2021 में पहली बार 18 स्टूडेंट बने ‘ऑल इंडिया टॉपर’

रिजल्ट: चार चरणों में हुई प्रवेश परीक्षा में विभिन्न राज्यों के 44 स्टूडेंट्स को मिला 100 परसेंटाइल स्कोर, जेईई-एडवांस्ड के लिये पंजीयन प्रारंभ, जोसा काउंसलिंग जल्द
न्यूजवेव@ कोटा
इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षाओं में पहली बार जेईई-मेन की मेरिट सूची में 18 विद्यार्थी ऑल इंडिया टॉपर्स बने हैं। जेईई-मेन,2021 के चार चरणों में कुल 44 विद्यार्थियों ने 100 परसेंटाइल एनटीए स्कोर अर्जित करने का रिकॉर्ड बनाया है।
रिजल्ट के अनुसार, राजस्थान के 3, आंध्रपदेश के 4, उत्तरप्रदेश, तेलंगाना व दिल्ली के 2-2, बिहार, पंजाब, चंडीगढ़ एवं कर्नाटक के 1-1 विद्यार्थी ने ऑल इंडिया रैंक-1 पर कब्जा किया है। राजस्थान से अंशुल वर्मा (रायपुर) एवं सिद्वांत मुखर्जी (मुंबई) एवं मृदुल अग्रवाल (जयपुर) एवं अन्य प्रदेशों के तीन छात्रों सहित एलन कोचिंग संस्थान के 6 स्टूडेंट्स ऑल इंडिया टॉपर रहे।
चौथे चरण की परीक्षा में कुछ परीक्षा केंद्रों पर अनियमितताओं की शिकायतें उजागर होने पर सीबीआई ने त्वरित कार्रवाई करते हुये कुछ परीक्षा केंद्रों पर छापेमारी की कार्रवाई की। जिसमें फर्जी नाम से पेपर दिलवाने वाले तीन दलालों की गिरफ्तारी कर ली गई। इस कार्रवाई के कारण रिजल्ट देरी से घोषित हो सका। इस परीक्षा में 20 दोषी विद्यार्थियों को तीन वर्ष के लिये वंचित कर दिया गया है।

किस सत्र में कितने छात्र 
इस वर्ष चारों सत्रों में कुल 10,48,012 ने पेपर-1 के लिये पंजीयन करवाया था, जिसमें से 9,39,008 ने अलग-अलग सत्रों में परीक्षा दी। इनमें से 2.52 लाख विद्यार्थियों ने चारों सत्र में पेपर-1 दिया। यह परीक्षा देश के 334 शहरों के 925 परीक्षा केंद्रांे पर हुई। एनटीए के अनुसार, फरवरी सत्र में 6,21,033 परीक्षार्थियों ने, मार्च सत्र में 5,56,248 ने, जुलाई सत्र में 5,43,553 ने एवं अगस्त-सितंबर के अंतिम सत्र में 4,81,419 ने पेपर-1 की परीक्षा दी। आंकडों के अनुसार, इस वर्ष सभी श्रेणी के 6,58,939 छात्रों एवं 2,80,067 छात्राओं ने परीक्षा दी।

एनटीए ने परीक्षार्थियों को राहत देते हुये जेईई-मेन पेपर-1 में प्रश्नों की संख्या 90 से घटाकर 75 तथा पेपर 360 अंकों के स्थान पर 300 अंकों का कर दिया था। पूरे वर्ष देशभर में क्लासरूम कोचिंग संस्थान बंद होने से सभी विद्यार्थियों ने ऑनलाइन कोचिंग व मॉक टेस्ट देकर सेल्फ स्टडी से सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर दिखाया।
2.50 लाख जेईई-एडवांस्ड के लिये क्वालिफाई
इस परीक्षा में शीर्ष स्कोर से क्वालिफाई 2.50 लाख विद्यार्थी अब 3 अक्टूबर को होने वाली जेईई-एडवांस्ड परीक्षा देंगे। इसके लिये आईआईटी खडगपुर द्वारा 15 सितंबर से ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया प्रारंभ कर दी गई है।
जोसा काउंसलिंग से 31 एनआईटी में एडमिशन


ज्वाइंट सीट आवंटन अथॉरिटी (JoSAA) द्वारा ऑनलाइन काउंसलिंग प्रक्रिया जल्द प्रारंभ कर दी जायेगी, जिसमें देश के 31 एनआईटी की 23,506 सीटें, 28 त्रिपल आईटी की 5643 सीटें एवं 25 से अधिक केंद्र वित्त पोषित संस्थानों की 5620 सीटें सहित 107 से अधिक राष्ट्रीय स्तर के संस्थानों की कुल 50,822 से अधिक सीटों के लिये ऑल इंडिया रैंक के आधार पर विभिन्न यूजी कार्सेस की सीटें आवंटित की जायेंगी। याद दिला दें कि देश में सरकारी संस्थानों के अतिरिक्त 1246 प्रमुख इंजीनियरिंग कॉलेज हैं, जो जोसा काउंसलिंग में भाग नहीं लेते हैं, लेकिन जेईई-मेन के स्कोर के आधार पर प्रवेश देते हैं।
100 परसेंटाइल स्कोर में राजस्थान से 6 छात्र
जेईई-मेन,2021 में 100 परसेंटाइल स्कोर प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों में राजस्थान से 6 विद्यार्थी सिद्धांत मुखर्जी, मृदूल अग्रवाल, अंशुल वर्मा, जेनिथ मल्होत्रा, रोहित कुमार एवं साकेत झा हैं। ये सभी स्टेट टॉपर्स हैं। इनके अलावा रिजू बिंदुआ 99.9871778 परसेंटाइल अंकों से स्टेट टॉपर रही। एनटीए ने स्टेट टॉपर्स बनने वाले छात्र एवं छात्राओं की सूची भी जारी की है। छात्राओं में दिल्ली की काव्या चौपडा 300 अंकों के साथ 100 परसेंटाइल स्कोर अर्जित कर एआईआर-1 पर सफल रही। जबकि तेलंगाना की कोमा शारन्या ने 300 अंकों के साथ 99.9990421 परसेंटाइल से शीर्ष रैंक प्राप्त की।
कटऑफ में गिरावट
जेईई-मेन,2021 की कटऑफ में गत वर्ष की तुलना में गिरावट रही। इस वर्ष सामान्य वर्ग की कटऑफ 87.8992241, सामान्य ईडब्ल्यूएस वर्ग में 66.2214845, ओबीसी एनसीएल वर्ग में 68.0234447, एससी वर्ग में 46.8825338 एवं एसटी वर्ग में कटऑफ 34.6728999 परसेंटाइल रही। जबकि दिव्यांग श्रेणी में कटऑफ मात्र 0.0096375 रही।

(Visited 36 times, 1 visits today)

Check Also

जेईई-एडवांस्ड में मैथ्स ने बढ़ाई मुश्किलें

जेईई एडवांस्ड में पहली बार न्यूमेरिकल टाइप प्रश्न पैरेग्राफ में पूछे गए न्यूजवेव @ कोटा  …

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: