Wednesday, 28 February, 2024

2.24 लाख विद्यार्थी 19मई को देंगे जेईई-एडवांस्ड परीक्षा

आईआईटी रूडकी ने जारी किया जेईई-एडवांस्ड,2019 पोस्टर। विदेशी स्टूडेंट्स के लिये जेईई-मेन अनिवार्य नहीं

न्यूजवेव @ नईदिल्ली/कोटा

आईआईटी रूडकी ने देश के 23 आईआईटी में दाखिले के लिए 19 मई ,2019 को होने वाली संयुक्त प्रवेश परीक्षा,उच्च (जेईई-एडवांस्ड-2019) का पोस्टर अधिकृत वेबसाइट www.jeeadv.ac.in पर जारी कर दिया।

इस वर्ष भी जेईई-एडवांस्ड देश के लगभग 120 शहरों के अतिरिक्त 6 अन्य देशों में अदीस अबाब (इथोपिया), कोलम्बो (श्रीलंका), ढाका (बांग्लादेश), काठमांडु (नेपाल) तथा दुबई (यूएई) व सिंगापुर के कम्प्यूटर बेस्ड टेस्ट (सीबीटी) मोड में होगी। भारतीय विद्यार्थियों के लिए 5 पात्रताएं अनिवार्य होंगी जबकि विदेशी छात्रों को शेष 4 पात्रताएं पूरी करनी होंगी। विदेशी स्टूडेंट्स के लिये जेईई-मेन देना अनिवार्य नहीं है, वे सीधे जेईई-एडवांस्ड के लिये आवेदन कर सकेंगे। सभी आईआईटी के प्रत्येक कोर्स में 10 प्रतिशत सीटें विदेशों से चयनित स्टूडेंट्स के लिए होती हैं। देश की 23 आईआईटी में बीटेक, बीआर्क, इंटीग्रेटेड मास्टर्स तथा ड्यूल डिग्री प्रोग्राम की 11,509 से अधिक सीटों के लिए 2.24 लाख परीक्षार्थियों के बीच अंतरराष्ट्रीय मुकाबला होगा। 19 मई को पेपर-1 सुबह 9 से 12 बजे तथा पेपर-2 दोपहर 2 से शाम 5 बजे तक होगा। दोनों पेपर अनिवार्य होंगे।

ये हैं पांच अनिवार्य पात्रताएं
1. अभ्यर्थी जेईई-मेन,2019 के शीर्ष 2.24 लाख विद्यार्थियों में चयनित हो।
2. अभ्यर्थी का जन्म 1 अक्टूबर,1994 या उसके बाद हुआ हो। रिजर्व केटेगरी व दिव्यांग को अधिकतम उम्र सीमा में 5 वर्ष की छूट।
3. अभ्यर्थी 2017 में जेईई-एडवांस्ड या उससे पहले शामिल नही हुआ हो।
4. 2017 या 2018 में पहली बार 12वीं बोर्ड परीक्षा दी हो।
5. विद्यार्थी ने किसी आईआईटी में एडमिशन नहीं लिया हो।

आईआईटी में दाखिले के लिए कोई एक शर्त अनिवार्य

परीक्षार्थी 12वीं बोर्ड या समकक्ष परीक्षा में 75 फीसदी व आरक्षित वर्ग में 65 फीसदी अंक हों। दूसरा, अभ्यर्थी 12वीं बोर्ड या समकक्ष परीक्षा में केटेगरी के अनुसार, टॉप-20 परसेंटाइल में हो।

विद्यार्थियों को जीएसटी से राहत नहीं

सूत्रों ने बताया कि अप्रैल,2019 के अंतिम सप्ताह में जेईई-एडवांस्ड के लिए ऑनलाइन पंजीयन प्रारंभ होंगे। जिसमें सभी श्रेणी के परीक्षार्थियों को निर्धारित पंजीयन शुल्क के साथ जीएसटी भी देना होगा। अभिभावकों ने मांग की कि ऑनलाइन परीक्षा का पंजीयन शुल्क पहले से अधिक लिया जा रहा है, ऐसे में जीएसटी का अतिरिक्त भार देश के 2.24 लाख विद्यार्थियों पर आर्थिक दबाव बढ़ाएगा। पिछले वर्ष से ही विद्यार्थियों को परीक्षा शुल्क में जीएसटी से छूट देने की मांग की जा रही है।

केटेगरी पंजीयन शुल्क (जीएसटी अतिरिक्त)
सामान्य वर्ग              : 2600 रू
गर्ल्स एवं रिजर्व श्रेणी : 1300 रू
विदेशी परीक्षार्थियों का शुल्क:
सार्क देशों के लिए       : 75 अमेरिकी डॉलर
गैर सार्क देशों के लिए : 150 अमेरिकी डॉलर

(Visited 236 times, 1 visits today)

Check Also

कोटा में कोचिंग छात्रा के साथ सामूहिक दुष्कर्म, चार छात्र गिरफ्तार

न्यूजवेव @ कोटा शिक्षा नगरी कोटा में एक 17 वर्षीया कोचिंग छात्रा के साथ गैंगरेप …

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: