Monday, 17 June, 2024

गवर्नमेंट गर्ल्स कॉलेज में क्रिएटिविटी पर दो दिवसीय राष्ट्रीय चित्र कार्यशाला

न्यूजवेव@कोटा
राजकीय कला कन्या महाविद्यालय कोटा की चित्रकला विभाग एवं आइक्यूएसी (IQAC) के संयुक्त तत्वावधान में 10 और 11 जनवरी 2023 को सृजनात्मकता का महत्व विषय पर दो दिवसीय राष्ट्रीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला के द्वितीय दिवस पर चित्र प्रदर्शनी एवं डेमोंसट्रेशन का आयोजन किया गया। चित्र प्रदर्शनी में मुख्य अतिथि वर्धमान महावीर ओपन यूनिवर्सिटी के कुलपति डॉ कैलाश सोडाणी, विशिष्ट अतिथि राजकीय वाणिज्य कन्या महाविद्यालय कोटा की प्राचार्य डॉ वंदना ऊर्जा , जे डी बी विज्ञान महा विद्यालय के प्राचार्य डॉ संजय भार्गव तथा कोटा विश्वविद्यालय के कॉमर्स एंड मैनेजमेंट विभाग की सहआचार्य डॉक्टर मीनू माहेश्वरी रही तथा कार्यक्रम की अध्यक्षता राजकीय कला कन्या महाविद्यालय कोटा के प्राचार्य डॉ अशोक कुमार गुप्ता ने की।

चित्रकला प्रदर्शनी में राजकीय कला कन्या महाविद्यालय कोटा की छात्राओं के 56 चित्र और राजकीय कन्या महाविद्यालय रामपुरा कोटा की छात्राओं के 9 चित्र प्रदर्शित किए गए। महाविद्यालय के संकाय सदस्यों ने भी अपने चित्र प्रदर्शनी में प्रदर्शित किए गए। डॉ कैलाश सोडाणी ने छात्राओं द्वारा बनाए गए चित्रों की सराहना की और अपने वक्तव्य द्वारा छात्राओं को प्रोत्साहित किया। विशिष्ट अतिथि डॉ वंदनाआहूजा एवम डॉ संजय भार्गव ने छात्राओं की सृजन क्षमता की प्रशंसा करते हुए उत्साहवर्धन किया।

कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि डॉ मीनू माहेश्वरी ने सृजनात्मकता का महत्व विषय पर व्याख्यान भी प्रस्तुत किया। उन्होंने पीपीटी द्वारा अनेक उदाहरण देते हुए छात्राओं को जीवन में सृजनात्मकता के महत्व से अवगत कराया। महाविद्यालय प्राचार्य डॉ अशोक कुमार गुप्ता ने छात्राओं को इसी प्रकार लग्न और और साधना के साथ कला के क्षेत्र में आगे बढ़ते रहने के लिए प्रेरित किया।

चित्र प्रदर्शनी में भाग लेने वाली सभी छात्राओं को उत्कृष्ट कलाकृतियों के निर्माण हेतु प्रमाण पत्र प्रदान किए गए। कार्यक्रम का मंच संचालन सहायक आचार्य डॉ पारुल सिंह द्वारा किया गया महाविद्यालय की वरिष्ठतम संकाय सदस्य डॉ प्रेरणा शर्मा ने अपने समापन भाषण में कहा कि इस तरह की चित्र प्रदर्शनीयों के आयोजन से छात्राओं को अपनी कलाकृतियों एवं कला प्रतिभा को सभी के समक्ष प्रदर्शित करने का अवसर मिलता है जिससे कि उन्हें और भी अधिक कार्य करने की प्रेरणा मिलती है ।अंत में सहायक आचार्य डॉ प्रियंका वर्मा ने आभार जताया। कार्यक्रम में महाविद्यालय के अन्य संकाय सदस्य एवं छात्राओं के अभिभावक भी उपस्थित रहे एवं प्रदर्शनी का अवलोकन किया।

इस दो दिवसीय राष्ट्रीय कार्यशाला में 100 से अधिक पार्टिसिपेंट्स ऑनलाइन भी जुड़े हुए थे। कार्यशाला का आयोजन राजकीय कला कन्या महाविद्यालय कोटा की सह आचार्य डॉक्टर रेनू शर्मा, सहायक आचार्य डॉ दीप्ति जोशी डॉक्टर पाल सिंह एवं डॉ प्रियंका वर्मा द्वारा किया गया।

(Visited 270 times, 1 visits today)

Check Also

स्वयंसेवकों में हो कर्तव्य पालन की प्रतिबद्धता – निम्बाराम

– कोटा में राजस्थान क्षेत्र के 20 दिवसीय संघ कार्यकर्ता विकास वर्ग-प्रथम का समापन न्यूजवेव@कोटा …

error: Content is protected !!