Sunday, 16 June, 2024

कोटा मे मथुराधीश मंदिर का परिक्रमा मार्ग विकसित हो – संदीप शर्मा

न्यूजवेव@ कोटा

राजस्थान विधानसभा में शुक्रवार को भाजपा विधायक संदीप शर्मा ने विशेष उल्लेख से कोटा मंे वल्लभ संप्रदाय के श्री मथुराधीश मंदिर एवं इसके आसपास के क्षेत्र को विकसित व सौंदर्यीकरण करने की मांग की। विधायक ने कहा कि कोटा शिक्षा नगरी होने के साथ ही धार्मिक नगरी भी है। यहां वल्लभ संप्रदाय की सप्तम उपपीठ में प्रथम पीठ पाटनपोल स्थित श्री मथुराधीश मंदिर है। यह वैष्णव संप्रदाय में वृंदावन व नाथद्वारा के बाद प्रमुख तीर्थ स्थल माना जाता है, जिसे नंदग्राम भी कहते हैं।


वल्लभ सम्प्रदाय की प्रधान पीठ होने से वर्षपर्यंत हजारों धर्मावलंबी यहाँ आते रहते है। मथुराधीश की सेवा वल्लभ सम्प्रदाय की परम्परा के अनुरूप की जाती है। यहां कृष्ण जन्मोत्सव, नंद महोत्सव, अन्नकूट तथा होली धूमधाम से मनायी जाती है। दुर्भाग्यवश इतने प्राचीन आस्था के केंद्र का पुनर्रूद्धार नहीं किया जा रहा है। इसका परिक्रमा मार्ग बहुत छोटा व अव्यवस्थित है। जिससे श्रद्धालुओं को भारी परेशानी उठानी पडती है।
शर्मा ने सदन में मांग की कि कोटा में धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा देने के लिये इस प्राचीन मंदिर के आसपास का क्षेत्र पूरी तरह विकसित किया जाये। यहां सम्पूर्ण राजस्थान ही नही गुजरात, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश व दक्षिणी भारत से भी श्रद्वालु दर्शन करने आते है। प्रदेश के यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल कोटा को पर्यटन नगरी बनाने के लिये रिवर फ्रंट पर करोडों रू खर्च कर रहे हैं, जबकि लाखों लोगों के आस्था के केंद्र आज भी उपेक्षित हैं। इनके विकास की कार्ययोजना बनाकर परिक्रमा मार्ग विकसित किया जाये। ऐसा करने से देश भर से कृष्ण भक्त नाथद्धारा से कोटा में दर्शन करने आने लगेंगे।

(Visited 246 times, 1 visits today)

Check Also

‘कामयाब कोटा’ अभियान में जिला कलक्टर ले रहे हैं क्लास

न्यूजवेव @कोटा जिला कलक्टर डॉ.रविंद्र गोस्वामी इन दिनों ‘कामयाब कोटा’ मिशन के तहत कोचिंग संस्थानों …

error: Content is protected !!