Monday, 22 July, 2024

मिट्टी धसने से चंबल किनारे श्री चांदमारी बालाजी मंदिर को खतरा

न्यूजवेव @ कोटा
चम्बल नदी किनारे स्थित वर्षों पुराने श्री चांदमारी बालाजी मंदिर के परिसर में बहुत ज्यादा मात्रा में मिट्टी खिसक जाने से पुजारी की कुटिया ढह गई और मंदिर का परिक्रमा मार्ग क्षतिग्रस्त हो गया है।


लोकतंत्र रक्षा मंच राजस्थान के कार्यवाहक प्रदेश अध्यक्ष हनुमान शर्मा ने जिला कलक्टर को ईमेल भेजकर आग्रह किया कि चम्बल नदी किनारे पर नीचे से मंदिर के ऊपर तक मजबूत दीवार बनाकर मंदिर को सुरक्षित किया जाना चाहिये। चम्बल नदी के नीचे से मंदिर के ऊपर तक ऊँचाई लगभग 150 फिट है।
उन्होंने बताया कि पिछले कुछ वर्षों से धीरे धीरे मिट्टी खिसकने का सिलसिला जारी है। इस वर्ष जबरदस्त बारिश ओर कोटा बैराज के गेट खुलने से भारी मात्रा में मिट्टी धंस गई है, जिससे मंदिर को भारी नुकसान हआ है।
याद दिला दें कि शहर में चम्बल नदी किनारे यह प्राचीन सिद्ध मंदिर है। इसकी बहुत मान्यता है। भक्तजन प्रतिदिन दर्शन करने आते है। मंगलवार – शनिवार – अमावस्या – पूर्णिमा को अत्यधिक दर्शन करने वालो का तांता लगा रहता है। श्री हनुमान जयंती ओर नवरात्रि पर यहां विशेष पूजा महोत्सव के साथ श्रद्धालुओं का मेला सा लग जाता है। मनोकामना पूर्ण होने पर भक्तजन यहां सवामणी करवाने आते रहते है।

(Visited 806 times, 1 visits today)

Check Also

चारू जैन इनरव्हील क्लब कोटा की नई प्रेसीडेंट

न्यूजवेव @कोटा इनरव्हील क्लब की संयुक्त कार्यकारी बैठक मंगलवार को होटल इटोस में क्लब प्रेसिडेंट …

error: Content is protected !!