Monday, 22 July, 2024

कोटा में नेत्र सर्जन डॉ. सुरेश पाण्डेय को मातृ शोक

दिवंगत श्रीमती मायादेवी पाण्डेय का हुआ नेत्रदान
न्यूजवेव @कोटा
सुवि नेत्र चिकित्सालय एवं लेसिक सेन्टर कोटा के निदेशक एवं आई.एम.ए. कोटा के पूर्व उपाध्यक्ष, वरिष्ठ नेत्र चिकित्सक डॉ. सुरेश पाण्डेय की मातुश्री श्रीमती मायादेवी पाण्डेय का गुरूवार 6 अप्रैल को निधन हो गया। वे 78 वर्ष की थी। डॉ. पाण्डेय ने बताया कि माताजी को ब्रेन हेमरेज होने के बाद वे घर पर स्वास्थ्य लाभ ले रही थी।
आई बैंक सोसायटी ऑफ राजस्थान (कोटा चेप्टर) के अध्यक्ष डॉ. के. के. कंजोलिया ने बताया कि श्रीमती माया देवी के संकल्प पर तकनीशियन टिंकू ओझा व शाइन इण्डिया फाउण्डेशन के डॉ. कुलवन्त गौड़ द्वारा सुवि नेत्र चिकित्सालय पहुंचकर नेत्रदान की प्रक्रिया पूरी की गई। नेत्र चिकित्सक पुत्र डॉ. सुरेश पाण्डेय, डॉ. राजेश पाण्डेय, डॉ. दिनेश पाण्डेय ने बताया कि मातुश्री की दोनों आंखों से दो दृष्टिहीनों की दुनिया पुनः रोशन होगी। उनका जन्म 7 मई, 1945 को छीपाबड़ौद, जिला बाराँ में हुआ था। उनके पिता स्व. श्री बृज भूषण लाल तिवारी क्षेत्र के जाने-माने आयुर्वेदिक चिकित्सक थे।
उनकी सुपुुत्री श्रीमती उषा पाण्डेय ने बताया कि माताजी ने बालिकाओं की शिक्षा पर विशेष ध्यान दिया। वे सामाजिक सरोकारों में विश्वास रखते हुए सादा जीवन उच्च विचार रखती थी। उनके दिवंगत शिक्षक पति श्री कामेश्वर प्रसाद पाण्डेय के नेत्रदान-महादान के पुण्यकार्य करने पर मातुश्री को आई बैंक सोसायटी कोटा चेप्टर द्वारा नेत्रदानी परिजन सम्मान समारोह में सम्मानित किया था। दिवंगत श्रीमती मायादेवी पाण्डेय की तीये की बैठक 8 अप्रैल शनिवार को दानबाड़ी परिसर, दादाबाड़ी में रखी गयी है।

(Visited 170 times, 1 visits today)

Check Also

हॉस्टल्स से यूडी टैक्स की वसूली आवासीय श्रेणी में हो

जयपुर में विधायक संदीप शर्मा के साथ यूडीएच मंत्री झाबर सिंह खर्रा से मिला प्रतिनिधिमंडल …

error: Content is protected !!