Monday, 27 June, 2022

गीता के हर शब्द में जीवन प्रबंधन का ज्ञान – जेटली

गीता परिचय अभियान, राजस्थान एवं कोटा ज्ञानद्वार सोसायटी की गीता सेमिनार में श्रीकृष्ण एवं अर्जुन संवाद पर हुआ अमृत मंथन
न्यूजवेव @ कोटा
श्रीमद् भागवत गीता का हर शब्द जीवन प्रबंधन का ज्ञान है। हमारा स्वास्थ्य, संपदा, प्रसन्नता सब कुछ गीता को समझने से स्वतः ही साकार हो जाते हैं। कोटा ज्ञानद्वार एजुकेशन सोसायटी एवं गीता प्रचार अभियान जयपुर के तत्वावधान में आयोजित तीन दिवसीय गीता सेमीनार के दूसरे दिन मुख्य अतिथि डीसीएम श्रीराम रेयंस के निदेशक वीके जेटली ने यह बात कही।
ओम कोठारी प्रबंध संस्थान के सभागार में व्याख्यान के मुख्य वक्ता गीता प्रचार अभियान के संतोष कुमार ने गीता के अध्यायों की श्लोकवार व्याख्या की। उन्होंने श्रीकृष्ण एवं अर्जुन का संवाद जीवंत कर दिया। उन्होंने कुरूक्षेत्र में गीता ज्ञान और भगवान के विराट दिव्य दर्शन से अर्जुन के मन में आऐ परिवर्तनों की सुदर तरीके से व्याख्या की।
संतोष कुमार ने कहा कि जो भगवान में काम आता है,उसका काम स्वतः ही हो जाता है। भगवान को समग्र रूप से जानें और अपनी रूचि के अनुसार उद्देश्य के साथ जीवन में काम करें। गीता के विद्वान योगेंद्र शर्मा ने बताया कि भगवान अनंत रूप् में प्राप्त होते है। उनकी कल्पना से ही सृष्टि की रचना हुई। प्रकृति की सत्ता परमात्मा से ही है। कर्म व ज्ञान के द्वारा ही परमात्मा को पाया जाता सकता है। बिना प्रेम के ये संभव नहीं है। वक्ता सुधीर यादव ने कहा कि जब तक आसक्ति नहीं छूटती परमात्मा को नहीं पा सकते। मनुष्य का शरीर मिलने पर ही ईश्वर की प्राप्ति होती है।
ज्ञानद्वार एजुकेशन सोसायटी की संस्थापक अध्यक्ष एवं गीता सेमिनार की संयोजक अनिता चौहान ने बताया कि ऐसे सेमीनार के माध्यम से युवा वर्ग में गीता के प्रति चेतना जगाने का प्रयास हो रहा है। अब तक देश भर में 40 से अधिक सेमीनार हो चुकी है। इस सेमीनार में देश भर से 100 से अधिक प्रतिभागी आवासीय एवं गैर आवसीय भागीदारी कर रहे है।
संरक्षक जीडी पटेल, पूर्व प्रशासनिक अधिकारी हरिशंकर भारद्वाज, अभियान से जुड़ी डॉ सुनीता चौहान , शकुन गुप्ता, पूर्व नगर निगम उपायुक्त एमसी शर्मा, गायत्री परिवार गौशाला के खेमराज यादव, बांके बिहारी मंदिर के राजेन्द्र अग्रवाल, विश्व हिंदू परिषद के वीपी मित्तल आदि ने अतिथियों का स्वागत किया। सेमिनार को सफल बनाने में ज्ञानद्वार के बी एस वर्मा, नम्रता हाड़ा, नीतू राणावत, विशाल भारद्वाज, विनोद गौड़ ने सहयोग किया। सोमवार को सेमीनार का समापन होगा।

(Visited 70 times, 1 visits today)

Check Also

मर्दानी कोरोना योद्धा के रूप में पत्रकार मेघा जैन का सम्मान

पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने कहा, मेघा का सम्मान करते हुए हम गौरवान्वित महसूस कर …

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: