Wednesday, 25 May, 2022

प्रदेश में बिजली की दरें नहीं बढेंगी, घाटे के लिये डिस्कॉम दोषी

राजस्थान राज्य विद्युत विनियामक आयोग ने जारी किया नया टैरिफ आदेश
न्यूजवेव @ जयपुर
राजस्थान में बिजली की दरों में फिलहाल कोई बढ़ोत्तरी नहीं की जा रही है। राजस्थान राज्य विद्युत विनियामक आयोग ने डिस्कॉम के फिक्स चार्ज बढ़ाने के प्रस्ताव को खारिज कर दिया है। डिस्कॉम ने दरें बढाने के पीछे कोरोना प्रभाव, फिक्स चार्ज से संभावित कठिनाई और राजस्व अंतराल का हवाला दिया था। हालांकि बड़े उद्योगों (125 KVA से अधिक लोड) पर 5 प्रतिशत सरचार्ज लगाया गया है। यदि सुबह 6 से 10 बजे तक औद्योगिक इकाई संचालित होती है तो वे उद्योग इस श्रेणी में आएंगे। आयोग ने बुधवार को नया टैरिफ ऑर्डर जारी कर दिया है।
नियामक आयोग ने डिस्कॉम को अक्षम माना
नियामक आयोग ने वर्तमान नियमों के तहत पूरी स्थिति का आंकलन किया और माना कि इसमे तीनों डिस्कॉम की अक्षमता मुख्य कारण रही। राज्य विद्युत उत्पादन निगम की रिटर्न ऑन इक्विटी (ROE) को भी राज्य सरकार ने नहीं माना है। नियामक आयोग ने उलटे 750 करोड़ रुपए सरप्लस माना है। इसमें जयपुर और अजमेर डिस्कॉम को सरप्लस और जोधपुर डिस्कॉम में कुछ घाटे का आंकलन किया गया।

इन्हें मिलेगी राहत

  • घरेलू-अघरेलू, सार्वजनिक स्ट्रीट लाइट, कृषि, सभी उद्योग, इलेक्ट्रिक व्हीकल चार्जिंग स्टेशन सहित सभी श्रेणियों में बिजली की दरें नहीं बढ़ेगी।
  • सार्वजनिक पूजा स्थल के परिसर में स्थित धर्मशालाओं में घरेलू विद्युत दर ही लगेगी। अभी कॉमर्शियल दर से बिल भेजे जा रहे थे।
  • सिलिकोसिस पीडितों को बीपीएल श्रेणी में शामिल किया गया है और उन्हें भी उसी दर पर बिजली मिलेगी।
(Visited 141 times, 1 visits today)

Check Also

देश का 52वां टाइगर रिजर्व बना रामगढ़ विषधारी अभयारण्य

खुशखबर : राजस्थान में चौथा टाइगर रिजर्व घोषित होने से हाडौती सर्किट पर्यटन के राष्ट्रीय …

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: