Tuesday, 20 October, 2020

अपूर्व ने JEE Main में 39 से 99.5 स्कोर अर्जित करने का करिश्मा कर दिखाया

मिसाल- कोरोना महामारी के दौरान E-Saral कोटा से मिला ऑनलाइन सपोर्ट, AIR-827 मिलने से NIT में चयन पक्का किया
न्यूजवेव @ कोटा
किसी औसत छात्र के मन में जीतने का जज्बा हो तो वह मुश्किलों को हराकर अपना सपना सच कर सकता है। ऐसा ही करिश्मा JEE-Main,2020 परीक्षा में देवगढ़ (झारखंड) के छात्र अपूर्व प्रिंस ने कर दिखाया है। जेईई-मेन के जनवरी अटेम्प्ट में मात्र 39.6 परसेंटाइल स्कोर मिलने से अपूर्व विफल रहा लेकिन हिम्मत जुटाकर कोराना महामारी के दौरान E-Saral कोटा से ऑनलाइन पढ़ाई करते हुए  सितम्बर अटेम्प्ट में 99.5 परसेंटाइल स्कोर अर्जित कर दिखाया, जिससे एनआईटी में कम्प्यूटर साइंस ब्रांच में उसका प्रवेश पक्का हो गया है।
परिवार से मिली मेहनत की सीख
अपूर्व ने बताया कि 12वीं बोर्ड में 80 प्रतिशत अंक मिलने पर उसने कोटा आकर एक कोचिंग संस्थान से जुलाई से दिसम्बर तक 5 माह कोचिंग ली लेकिन वहां स्पीड से कोर्स पूरा करवाने से वह मानसिक तनाव में रहा। कोचिंग टेस्ट में वह बहुत पीछे रहा। जनवरी में जेईई-मेन में 39.6 परसेंटाइल मिलने से बहुत निराशा हुई। हालांकि VIT में बीटेक सीट मिल रही थी लेकिन बीटेक की फीस 16 लाख रुपये होने से आर्थिक परेशानी सामने आई।


अपूर्व ने हिम्मत नही हारी और दूसरे अटेम्प्ट के लिए घर से रेगुलर सेल्फ स्टडी शुरू कर दी। प्रॉब्लम सॉल्व करने के लिए E-Saral की ऑनलाइन क्लास ज्वाइन की। फिजिक्स व आर्गेनिक केमिस्ट्री में वह कमजोर था लेकिन रोज के डाउट रोज क्लियर होने से उसने इम्प्रूव कर लिया। जिससे उसका आत्मविश्वास लौट आया। जेईई-मेन के रिजल्ट में उसे 99.5 परसेंटाइल स्कोर मिला तो उत्साह दोगुना हो गया। फिलहाल वह 27 सितम्बर को होने वाली जेईई-एडवांस्ड की तैयारी में जुटा है।
E-Saral के निदेशक व IITian मेंटर सारांश गुप्ता ने बताया कि अपूर्व ने JEE Main पर ही पूरा फोकस किया, जिससे EWS केटेगरी में AIR-827 मिली है। NIT, त्रिची में सीएस ब्रांच में उसे प्रवेश मिल जाएगा। ऑनलाइन कोचिंग में रोज के डाउट रोज सॉल्व करके उसे प्रेरित किया। इस वर्ष जेईई-एडवांस्ड के लिए उसका अंतिम अवसर है। वह शेड्यूल के अनुसार रोज टेस्ट देकर प्रेक्टिस कर रहा है।
कई छात्रों को दूसरे चांस में मिला बेस्ट स्कोर
सारांश ने बताया कि नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) ने एक वर्ष में दो बार परीक्षा के अवसर देकर विद्यार्थियों का आत्मविश्वास बढ़ाया है। इस वर्ष सैकड़ों ऐसे छात्र हैं, जो ऑनलाइन पढ़ाई करते हुए सितम्बर में हुई परीक्षा पहले से अच्छा इम्प्रूव कर चयनित हुए हैं। इनमें E-Saral के छात्र बी.वेंकट जयन्थ ने जनवरी में 58.13 से सितम्बर में 90.49, भव्या कपूर ने 87.85 से 95.36, अभिषेक कुमार ने 87.16 से 95.08, आदित्येश ने 78.37 से 94.0, अमन शर्मा ने 82.89 से 92.13 एवं राहुल सैनी ने 73.92 से 90.99 परसेंटाइल स्कोर प्राप्त कर NIT में सलेक्शन पक्के कर लिए हैं।

(Visited 506 times, 1 visits today)

Check Also

NEET-UG मे दो विद्यार्थियों ने 100 प्रतिशत अंकों से बनाया रिकॉर्ड

रिजल्ट: इस वर्ष 15.97 पंजीकृत में से 13.66 लाख ने दी परीक्षा जिसमें से कुल …

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: