Saturday, 15 May, 2021

कोचिंग विद्यार्थी अकेले नहीं, हम आपके साथ हैं

‘स्मार्ट सिटी-हैप्पीनेस सिटी’ कैम्पेन
न्यूजवेव कोटा

शहर को खुशहाली के सूचकांक में सबसे आगे रखने के लिए 20 से अधिक युवा आईआईटीयन एवं इंजीनियर्स ने रविवार से ‘स्मार्ट सिटी-हैप्पीनेस सिटी’ कैम्पेन की शुरूआत की। यूनिवर्सिटी ऑफ ईस्ट लंदन से एमबीए कर रहे कोटा के युवा इंजीनियर एवं हैप्पीनेस कैम्पेन के कन्वीनर अमन माहेश्वरी ने हैप्पीनेस सिटी डॉट कॉम वेबसाइट को लांच किया और हेप्पीनेस स्टीकर्स का विमोचन किया।

उन्होने कहा कि इस वर्ष भारत वर्ल्ड हैप्पीनेस इंडेक्स में दुनिया के 156 देशों में 133 वें स्थान पर है। जबकि फिनलैंड, नार्वे और डेनमार्क छोटे होने के बावजूद खुशहाली में शीर्ष पर हैं। डैनिश के नागरिक मेलमिलाप व खुशियों को साझा शेयर करने में हमसे आगे हैं। क्यों न हम कोचिंग विद्यार्थियों को परिवार जैसी खुशियां देना शुरू करें।

कोटा से निकले आईआईटीयन, इंजीनियर्स व एमबीए प्रोफेशनल्स ने मिलकर यह तय किया कि अपने शहर को जिला प्रशासन व नागरिकों के साथ मिलकर ‘स्मार्ट सिटी-हैप्पीनेस सिटी’ के रूप में लोकप्रिय करेंगे। 12 लाख की आबादी में 2 लाख स्टूडेंट्स हैं,उनके लिए हर माह रोचक व मोटिवेशनल प्रोग्राम चलाए जाएंगे। शाम को टीम के सदस्य राजीव गांधी नगर में कोचिंग विद्यार्थियों से रूबरू हुए।

उन्होंने ‘मेकिंग कोटा, हैप्पीनेस सिटी’ स्टीकर का विमोचन करते हुए कहा कि स्मार्ट सिटी में सभी युवा, छात्र, नागरिक खुशियों के नेटवर्क से जुडेंगे। अपने व्हीकल, मकान या प्रतिष्ठानों पर हेप्पीनेस स्टीकर लगाकर हम सामूहिक संकल्प करेंगे कि कोटा खुशियां देने वाला शहर है।

ये होंगे स्किल डेवलपमेंट प्रोग्राम 


संयोजक सिद्धार्थ जैन ने बताया कि हेप्पीनेस कैम्पेन में सभी कोचिंग संस्थानों व अन्य सार्वजनिक स्थानों पर विद्यार्थियों के लिए हैप्पीनेस कोच वर्कशॉप व साइक्लॉजिकल काउंसलिंग, स्टेंडअप कॉमेडी, स्पोर्ट्स, हेप्पीनेस कार्ड,एबीसीडी पेंटिंग, थिएटर इन एजुकेशन, पॉजिटिव मूड व बिंदास दोस्त जैसे रोचक प्रोग्राम आयोजित करेंगे। ताकि स्टूडेंट्स सलेक्शन के साथ स्किल डवलवमेंट भी लेकर जाएं।

युवा जुड़ गए हैप्पीनेस से


इस मौके पर जैन सोशल ग्रुप, जेसीआई, रोटरी क्लब व अन्य एनजीओ के 70 से अधिक युवाओं ने संकल्प किया वे कोचिंग स्टूडेंट्स में अकेलापन दूर करने के लिए उन्हें परिवार जैसा माहौल देनेे का प्रयास करेंगे। उनके अतिरिक्त जनप्रतिनिधि, एनजीओ, क्लब, सोशल ग्रुप, सामाजिक संगठन, महिला व युवा क्लब, डॉक्टर्स व हॉस्पिटल, कोचिंग से जुडे़ मार्केट, हॉस्टल, मैस व टिफिन सेंटर्स, मोहल्ला समितियों से सहयोग मिल रहा है।

कोचिंग विद्यार्थियों के लिए हॉलिस्टिक एप्रोच
– अकेलापन दूर करने के लिए बनाएंगे बिंदास दोस्त
– स्टूडेंट टेंलट में दिखाएंगे हुनर
– प्रतिमाह मोटिवेशनल सेमीनार में नेशनल एक्सपर्ट से गाइडेंस
– स्टूडेंट फ्रेंडली हैप्पीनेस अड्डा
– स्पोर्ट्स व पेंटिंग के लिए आएंगे सेलिब्रिटी
– मेंटल हैल्थ के लिए हॉस्पिटल व डॉक्टर्स सेे टाईअप
– कॅरिअर व साइक्लॉजिकल काउंसलिंग

– जल्द लांच होगा हैप्पीनेस एप

(Visited 104 times, 1 visits today)

Check Also

कोटा में ऑक्सीजन की कमी से सैंकड़ों कोरोना रोगियों की सांसे अटकी

घरों पर आइसोलेट हुये कोराना रोगियों को ऑक्सीजन लेवल 89 से नीचे होने पर भी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: