Sunday, 21 July, 2024

नीट-यूजी में 21 लाख विद्यार्थियों के बीच महा मुकाबला 7 मई को

NEET-UG-2023 : देश-विदेश के 499 शहरों में बनाये परीक्षा केंद्र, एनटीए द्वारा प्रवेश पत्र जारी नहीं
अरविंद
न्यूजवेव @नईदिल्ली/ कोटा

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी(NTA) द्वारा नीट यूजी(NEEt-UG)-2023 परीक्षा रविवार 7 मई को देश-विदेश के 499 शहरों में पेन-पेपर मोड में आयोजित की जायेगी। एनटीए ने अधिकृत वेबसाइट पर 30 अप्रैल को परीक्षा केंद्रों के शहर की सूचना जारी कर दी है। विद्यार्थी अपनी आवेदन संख्या व जन्मतिथी के आधार पर परीक्षा केंद्र के शहर की सूचना अपलोड कर सकते हैं। एनटीए द्वारा 1मई तक प्रवेश पत्र जारी नहीं करने से लाखों परीक्षार्थी परेशान हैं। उनको प्रवेश पत्र का बेसब्री से इंतजार है। यह परीक्षा 7 मई को दोपहर 2 बजे से 5ः20 बजे तक होगी। परीक्षार्थियों को कडी सुरक्षा जांच के बाद परीक्षा केंद्रों में दोपहर 1ः30 बजे के बाद प्रवेश नहीं दिया जायेगा।
राजस्थान के 25 शहरों में होगी परीक्षा
राजस्थान में रविवार 7 मई को नीट-यूजी,2023 परीक्षा 25 शहरों के सेंटर्स पर होगी। यह ऑफलाइन परीक्षा जयपुर, जोधपुर, कोटा, बारां, सवाईमाधोपुर, उदयपुर, अजमेर, बीकानेर, अलवर, भीलवाडा, बाड़मेर, भरतपुर, चित्तौड़गढ़, चुरू, दौसा, धौलपुर, हनुमानगढ़, जैसलमेर, झुंझुनू, करौली, नागौर, पाली, सीकर, सीहोर, श्रीगंगानगर के विभिन्न परीक्षा केंद्रों पर होगी। परीक्षार्थी शनिवार से इन शहरों के लिये रवाना हो जायेंगे। राजस्थान में लगभग 1.50 लाख से अधिक विद्यार्थी यह परीक्षा देंगे।
इस वर्ष मेडिकल में बढे़ 3 लाख विद्यार्थी
एलन कॅरिअर इंस्टीटयूट के कॅरिअर काउंसलर पारिजात मिश्रा ने बताया कि इस वर्ष नीट-यूजी,2023 में सर्वाधिक 21 लाख 63 हजार विद्यार्थी पंजीकृत हुये हैं। जबकि गत वर्ष 18,72,341 परीक्षार्थी इसमें शामिल हुये थे। इसके लिये भारत के 485 शहरों एवं विदेश के 14 शहरों यूएई के दुबई, आबूधाबी व शरजाह, बैंकाक (थाईलैंड), कोलंबो (श्रीलंका), दोहा (कतर), काठमांडू (नेपाल), कुआलालम्पुर (मलेशिया), कुवैत, लागोस (नाईजिरिया), मनामा (बहरीन), मस्कट (ओमान), रियाद (सउदी अरब) एवं सिंगापुर में परीक्षा केंद्र बनाये गये हैं।
पेपर पैटर्न में कोई बदलाव नहीं
नीट-यूजी परीक्षा में 720 अंकों का पेपर होगा, जिसमें 200 मिनट में कुल 180 प्रश्न हल करने होंगे। पेपर के ए व बी दोनो सेक्शन में नेगेटिव (-1) मार्किंग रहेगी। पेपर में फिजिक्स, केमिस्ट्री, जूलॉजी एवं बॉटनी से 50-50 प्रश्न पूछे जायेंगे। प्रत्येक विषय के सेक्शन-ए में 35 बहुवैकल्पिक प्रश्न (MCQ) हल करने होंगे जबकि सेक्शन-बी के 15 प्रश्नों में से 10 हल करने होंगे। यह प्रवेश परीक्षा ऑफलाइन मोड में 13 भाषाओं हिंदी, अंग्रेजी, असमी, बंगाली, गुजराती, कन्नड़, मलयालम, उड़िया, पंजाबी, तमिल, तेलुगु तथा उर्दू में होगी।
प्रवेश पत्र में देरी, परेशानी दोगुनी
मेडिकल विद्यार्थियों के अभिभावकों ने बताया कि बच्चों को 7 दिन पहले तक प्रवेश पत्र जारी नहीं होने से परीक्षा केंद्रों की सूचना नहीं मिल सकी है, जिससे उनको शारीरिक, मानसिक व आर्थिक परेशानी का सामना करना पडेगा। एनटीए द्वारा 30 अप्रैल को परीक्षा के लिये सिर्फ शहर की सूचना जारी की गई है। जिससे 1 मई से लाखों परीक्षार्थी परीक्षा केंद्रों तक पहुंचने के लिये रेलवे रिजर्वेशन करवा रहे हैं, जिसमें बहुत परेशानी आ रही है। उन्हें बसों व टैक्सियों से एक दिन पहले रवाना होना पडेगा। इस परीक्षा में 12 लाख से अधिक छात्रायें होने से अभिभावक भी उनके साथ जायेंगे। उन्हें शहरों की होटलों में एडवांस बुकिंग करने में भी समस्या हो रही है। हालांकि कोटा से एलन सहित अन्य कोचिंग संस्थान अपने विद्यार्थियों को बाहरी परीक्षा केंद्रों तक आने-जाने के लिये निजी बसों की व्यवस्था करते आ रहे हैं। जिससे छात्राओं को परीक्षा से ठीक एक दिन पहले आवागमन की सुविधा मिल जाती है।

(Visited 260 times, 1 visits today)

Check Also

हॉस्टल्स से यूडी टैक्स की वसूली आवासीय श्रेणी में हो

जयपुर में विधायक संदीप शर्मा के साथ यूडीएच मंत्री झाबर सिंह खर्रा से मिला प्रतिनिधिमंडल …

error: Content is protected !!