Thursday, 25 April, 2024

कोचिंग स्टूडेंट की लाइफ को लाइव दिखाया ‘कोटा फैक्ट्री’ में

पहली स्क्रीनिंग के लिए कोटा आए द वाइरल फीवर (टीवीएफ) के कलाकार
न्यूजवेव कोटा
देश के लाखों विद्यार्थी आईआईटी प्रवेश परीक्षाओं के लिये बार-बार पढ़ाई और पुनरावृत्ति करके अपने सपनों को जिंदा रखने का प्रयास करते हैं। इसके लिये कोटा में एक अलग दुनिया चलती है। यहां हर स्टूडेंट का एक अलग केरेक्टर होता है। कोचिंग स्टूडेंट हर कदम पर मेहनत और डेडिकेशन से आगे बढते दिखाई देते है।इस थीम को लेकर द वायरल फीवर (टीवीएफ) ने अनअकेडमी के साथ मिलकर नई ड्रामा सीरीज़ ‘कोटा फैक्ट्री’ की शूटिंग शिक्षा नगरी कोटा में की है।

यह ड्रामा सीरीज़ आईआईटी का सपना देखने वाले विद्यार्थियों की जिंदगी, कोचिंग सेंटर के उद्योग एवं घर से दूर स्टूडेंट लाइफ में होने वाले बदलाव के इर्दगिर्द घूमती है। यह सीरीज़ ‘ब्लैक एवं व्हाइट’ में रिलीज़ की गई है। ‘कोटा फैक्ट्री’ के स्क्रिप्ट राइटर अभिषेक यादव ने आईआईटी बॉम्बे से और एक्टर सौरभ खन्ना ने आईआईटी, खडगपुर से बीटेक किया है।
‘कोटा फैक्ट्री’ सीरिज एक नये कोचिंग स्टूडेंट वैभव (मयूर मोरे) की कहानी है। यह 16 वर्षीय विद्यार्थी जेईई-मेन क्लियर करके आईआईटी में दाखिला पाने की उम्मीद के साथ कोटा आता है। ‘कोटा फैक्ट्री’ सीरीज में जितेंद्र कुमार (जीतू), अहसास चन्ना (शिवानी), रेवती पिल्लई (वर्तिका), आलम खान (उदय) और रंजन राज (मीना) प्रमुख भूमिका निभा रहे हैं। शो के कलाकारों के साथ शो के निर्देशक राघव सुब्बू 22 अप्रैल को पीवीआर सिनेमा में शो की पहली स्क्रीनिंग के लिए कोटा आए।
कलाकार कोटा में पढ़कर निकले

‘कोटा फैक्ट्री में जितेंद्र कुमार कोचिंग फैकल्टी की भूमिका में दिखाई देंगे। उन्होंने कहा, ‘कोटा फैक्ट्री के साथ मेरा अनुभव भी जुडा है। यह मेरे लिए एक अद्भुत अनुभव है। जब मैं कोटा में पढ़ रहा था, तो मैं अपने टीचर्स की नकल किया करता था और हम सब काफी हंसी मजाक करते थे। वहीं से मेरे अभिनय की शुरुआत हुई। इतने सालों के बाद कोटा के शिक्षक का किरदार निभाने से पुरानी यादें ताजा हो गईं। कोटा फैक्ट्री अपनी तरह का अलग शो है, जो प्रवेश परीक्षाओं की तैयारी करने वाले विद्यार्थियों की भावनाओं और उनकी जिंदगी को करीब से समझता है।’
कोटा आए अहसास चन्ना ने कहा, ‘स्क्रीनिंग के लिए एजुकेशन सिटी में अच्छा लगा। इस शहर में हमारी बहुत सी यादें हैं। इस शो को स्टूडेंट्स व टीचर्स से अच्छी प्रतिक्रिया मिली और प्रतिक्रियाओं ने आज इसके लिए कड़ी मेहनत और प्रयास किए।”
मुख्य भूमिका निभाने वाले मयूर मोरे ने कहा, ‘‘कोटा फैक्ट्री को मेरे किरदार वैभव की दृष्टि और जीवन से देखा गया है। वह प्रत्येक नए विद्यार्थी की उम्मीदों और पढाई के दौरान आने वाले उतार चढ़ाव को प्रदर्शित करता है। इस शो के साथ जुड़ने का मुझे बेहतरीन अवसर मिला।
कोटा फैक्ट्री टीवीएफ की ओरिज़नल सीरीज़ है, जिसका निर्देशन राघव सुब्बू ने किया है। इस कहानी में विद्यार्थी जीवन की सबसे कठिन परीक्षा, आईआईटी की तैयारी करने वाले उम्मीदवारों के परीक्षणों, समस्याएं और रोजमर्रा के दबावों का प्रदर्शन किया गया है। कोचिंग सेंटर के अलग-अलग प्रोफेसर, चीटिंग और आसान तरीके तलाशने की उत्सुकता सहित कोटा फैक्ट्री में आईआईटी आकांक्षी के जीवन का हर पहलू दिखाया गया है। टीवीएफ प्ले और यूट्यूब पर कोटा फैक्ट्री इन दिनों चर्चा में है।

(Visited 244 times, 1 visits today)

Check Also

हार न मानें बल्कि उससे सीख लेकर खुद को चुनौती दें और आगे बढ़ते जाएं – डॉ. गोस्वामी

मोटिवेशनल सेमिनार : मोशन एजुकेशन में जिला कलक्टर ने ली लाइव क्लास न्यूजवेव @कोटा जिला …

error: Content is protected !!