Sunday, 16 June, 2024

कोटा में अखिल भारतीय कवि सम्मेलन 10 दिसंबर को

जनकवि स्व. विपिन मणि के हीरक जयंती समारोह में ख्यातनाम कवि करेंगेे ओजस्वी काव्यपाठ
न्यूजवेव@कोटा

‘बुझने मत दो संघर्षों की, जली मशालें तेज करो’ जैसी कालजयी पंक्तियों के रचियता और जनतांत्रिक मूल्यों की रक्षा के लिए संघर्षों की आवाज को कविताओं में ढालने वाले जनकवि स्व.विपिन मणि के 75 वें जन्मदिन पर हाडौती अंचल के सभी रचनाकारों, साहित्यकारों और रंगकर्मियों द्वारा उनका हीरक जयंती समारोह रविवार 10 दिसंबर को मनाया जायेगा।
समारोह के संयोजक डॉ उदय मणि ने बताया कि इस हीरक जयंती के अवसर पर यू.आई.टी. ऑडिटोरियम, श्रीनाथपुरम में रविवार दोपहर 12 बजे से अखिल भारतीय कवि सम्मेलन आयोजित किया जायेगा। इसमें उत्तरप्रदेश के विख्यात गीतकार डॉ राजीव राज, कोटा के ओज कवि जगदीश सोलंकी, हाडौती के गीतकार दुर्गादान सिंह, बृजेंद्र कौशिक, अतुल कनक, मुकुटमणि राज जैसे वरिष्ठ कवियों के साथ राजेंद्र पंवार , लोकेश मृदुल, निशामुनी गौड़, डॉ आदित्य जैन और प्रशांत टहल्यानी सहित अन्य लोकप्रिय कवि अपना काव्यपाठ करेंगे।
कार्यक्रम के अध्यक्ष मंडल में संभागीय आयुक्त श्रीमती प्रतिभा सिंह, पुलिस महानिरीक्षक कोटा रेंज प्रसन्न खमेसरा, गर्वनमेंट गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज कोटा की पिं्रसिपल व कंट्रोलर डॉ. संगीता सक्सेना, मेडिकल कॉलेज कोटा के पूर्व प्राचार्य डॉ. विजय सरदाना, पूर्व महापौर महेश विजय एवं देश के सुप्रसिद्ध साहित्यकार बृजेंद्र कौशिक मंचासीन रहेंगे। कवि सम्मेलन में शहर के प्रबुद्धजन, रचनाकार एवं आम नागरिक शामिल होंगे।
कई राष्ट्रीय कवि देंगे वर्चुअल उपस्थिति 
डॉ उदय मणि ने बताया कि वीर रस के प्रख्यात कवि डॉ हरि ओम पंवार, डॉ विष्णु सक्सेना, हास्य रस के कवि अरुण जैमिनी, संपत सरल, चिराग जैन और सर्वेश अस्थाना सहित देश-विदेश में ख्याति प्राप्त कवि इस कार्यक्रम में वीडियो के माध्यम से जनकवि स्व. विपिन मणि से जुडी बातें वर्चुअल उपस्थिति के रूप में रखेंगे।

(Visited 156 times, 1 visits today)

Check Also

स्वयंसेवकों में हो कर्तव्य पालन की प्रतिबद्धता – निम्बाराम

– कोटा में राजस्थान क्षेत्र के 20 दिवसीय संघ कार्यकर्ता विकास वर्ग-प्रथम का समापन न्यूजवेव@कोटा …

error: Content is protected !!