Tuesday, 3 August, 2021

भारत विकास परिषद की ई-संस्कार वाटिका से जुडे 1200 बच्चे

कोटा में भाविप की मां पन्नाधाय शाखा की 7 दिवसीय ज्ञान विज्ञान संस्कार वाटिका का समापन
न्यूजवेव @ कोटा
भारत विकास परिषद कोटा की मां पन्नाधाय शाखा द्वारा सात दिवसीय ज्ञान-विज्ञान ई-संस्कार वाटिका का अनूठा आयोजन किया गया। जिसमें देश-विदेश से 6 से 16 उम्र के 1200 से अधिक बच्चों ने वर्चुअल माध्यम से भाग लिया।
शाखा संरक्षिका, महिला एवं बाल विकास प्रांतीय प्रकल्प प्रभारी सुनीता गोयल जॉली ने शुभारंभ करते हुये बच्चों को शिविर मंे सिखाई बातों को अपने जीवन मंे उतारने का संकल्प दिलाया। शाखा अध्यक्ष श्रद्धा गहलोत के अनुसार, शिविर में कोरोना के भयावह दौर में बच्चों के नकारात्मक प्रभाव को दूर कर उन्हें सकारात्मक उर्जा के साथ भारतीय संस्कृति व संस्कारों से जोड़ना था।
शिविर में युवा बाल संत शाश्वत जी महाराज, साध्वी सरस्वती, कोटा विभाग प्रचारक मनोज प्रताप, डॉ. प्राची दीक्षित, डॉ. स्वाती गुप्ता ने बच्चों को भारतीय संस्कृति व सभ्यता से ओतप्रोत धर्म ग्रंथों की जानकारी देकर सकारात्मक जीने की प्रेरणा दी। परिषद के राजस्थान दक्षिण पूर्वी हाड़ौती प्रांत अध्यक्ष दुर्गेश शर्मा , महासचिव मुकेश शर्मा व प्रांतीय महिला प्रमुख स्नेहलता मालव ने कार्यक्रम में सहयोग किया।
परिषद के राष्ट्रीय वित्त मंत्री उत्तर पश्चिम रीजन से राकेश गुप्ता ने बच्चों को मनी मैनेजमेंट के बारे में समझाया। शाखा सचिव कविता शर्मा ने बताया कि नुपूर सक्सेना, नम्रता शुक्ला, प्रीति जैन, प्रीति भटनागर ने बच्चों को क्राफ्ट सिखाया। पुखराज भाटिया ने बच्चों को पब्लिक स्पीकिंग के गुण सिखाए। कार्यक्रम का संचालन रश्मि गुप्ता ने किया। शिविर में नीलम पारेता, श्वेता सिंह, संजना पारेता मेघना शर्मा का भरपूर सहयोग रहा। उन्होंने आशा जताई कि बच्चे अच्छे इंसान बनकर राष्टसेवा के कार्यो से जुडेंगे। अध्यक्ष श्रद्धा गहलोत ने बताया कि भविष्य में भी बच्चों को संस्कारवान बनाने के लिए ऐसे प्रेरक व सकारात्मक कार्यक्रम आयोजित किये जाएंगे।

(Visited 57 times, 1 visits today)

Check Also

महामारी में बेसहारा परिवारों को लोकसभा अध्यक्ष ने दिया सहारा

कोटा-बूंदी लोकसभा क्षेत्र में सांसद ओम बिरला ने निभाया इंसानियत का धर्म, चार महिलाओं को …

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: