Thursday, 30 May, 2024

कोटा में रेलवे तत्काल टिकट की दलाली करते दो आरक्षण बाबू गिरफ्तार

मुंबई भेजते थे टिकटो को, RPF की बड़ी कार्रवाई
न्यूजवेव @ कोटा
आरपीएफ खुफिया अपराध शाखा ने रविवार को रेलवे टिकट की दलाली करते दो आरक्षण बाबुओं को रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। दोनों बाबुओं को सोमवार को अदालत में पेश किया जाएगा।
RPF के खूफिया अधिकारी ने बताया कि कई दिनों से सूचना मिल रही थी कि छबड़ा गुगोर स्टेशन पर तैनात भीमगंजमंडी संजय नगर निवासी आरक्षण बाबू जावेद खान (40) पुत्र साबिर अली तत्काल श्रेणी के टिकटों की अवैध दलाली करता हैं। इसके बाद आरपीएफ द्वारा जावेद पर नजर रखी जाने लगी। रविवार को अवकाश होने से जावेद छबड़ा नहीं गया। लेकिन यह टिकट बनवाने सोगरिया स्टेशन पहुंच गया। यहां पर जैसे ही टिकट बनवाएं मौके की तलाश में खड़ी आरपीएफ में जावेद को दबोच लिया।
मुंबई भेजता था तत्काल टिकट
पूछताछ में जावेद ने आरपीएफ को बताया कि ये टिकट वह कूरियर द्वारा मुंबई भेजता था। मुंबई का दलाल किराया राशि के साथ प्रत्येक यात्री पर 400 रुपए अतिरिक्त देता था। इसके बाद आरपीएफ ने जावेद को कूरियर वाले को टिकट सोंपने को कहा। आरपीएफ के निर्देश पर जावेद ने पार्सल कार्यालय में यह टिकट राजेश नामक एक कूरियर वाले को सौंप दिए। टिकट सौंपते ही आरपीएफ ने राजेश को भी हिरासत में ले लिया। पूछताछ में राजेश ने बताया कि वह लिफाफों में रखकर इन टिकटो को मुंबई-जयपुर सुपरफास्ट ट्रेन के लीज होल्डर ठेकेदार के कर्मचारियों को देता था। कर्मचारी इन पार्सल यान में रखकर इन टिकटों को मुंबई पहुंचा देता था। मुंबई का दलाल लीज होल्डर वाले से इन टिकटों को प्राप्त कर लेता था।
लाखेरी का एक बाबू भी पकड़ा-
पूछताछ में राजेश ने आरपीएफ को बताया कि लाखेरी का एक बाबू भी इसी तरह अवैध टिकटों को कूरियर के जरिए मुंबई पहुंचाता है। वह उसे टिकट देने आने वाला है। इस सूचना पर आरपीएफ सतर्क हो गई। कुछ ही देर में लाखेरी का बाबू पार्सल कार्यालय पहुंचा। वहां बाबू ने जैसे ही टिकट राजेश को सौंपे मौके की तलाश में खडी आरपीएफ में बाबू को दबोच लिया। अधिकारियों ने बताया कि यह मुख्य वाणिज्य क्लर्क है। इसका नाम गुलाम मुस्तफा अंसारी (28) पुत्र सिराजुद्दीन है। यह भी भीमगंजमंडी नेहरू नगर पावर बिल्डिंग के पास रहता है। अधिकारियों ने बताया कि दोनों दलालों के पास से तत्काल श्रेणी के कुल पांच टिकट बरामद हुए हैं। इनका मूल्य करीब 25 हजार 890 रुपए है। यह सभी टिकट मुंबई से यात्रा के बने हुए थे।
सनावर है मुंबई का दलाल-
आरपीएफ अधिकारियों ने बताया कि सनावर खान मुंबई मे बडा दलाल है। यह पूरे भारत से इसी तरह अवैध टिकटों का कारोबार करता है। एक एक यात्री पर हजार रुपए तक अतिरिक्त देने का लालच देकर यह आरक्षण बाबुओं को अपने जाल में फंसाता है। अपराध शाखा निरीक्षक वीरेंद्र सिंह के नेतृत्व में की गई इस कार्रवाई के दौरान उप निरीक्षक भूपेंद्र सिंह, सहायक उप निरीक्षक चंदन सिंह, प्रधान आरक्षक रनवीर सिंह एवं संदीप सिसोदिया तथा आरक्षक शीशराम गुर्जर आदि जवान शामिल रहे।

(Visited 85 times, 1 visits today)

Check Also

डॉ. हेमलता गांधी ने जन्मदिवस पर देहदान का संकल्प लिया

देहदान-संकल्प : हमारे ऋषिमुनियों से सीखें दान का महत्व, इसी भाव ने देहदान-संकल्प के लिए …

error: Content is protected !!