Thursday, 30 May, 2024

ई-सरल ने रच दिया नया कीर्तिमान, मात्र 24 घंटे में जेईई-मेन का पूरा रिवीजन

कोटा कोचिंग का करिश्मा: 7 शिक्षकों की टीम ने 24 घंटे चली क्लास में तीनों विषयों के 105 चेप्टर पढ़ाये, देशभर के 2 लाख से अधिक विद्यार्थियों ने भाग लिया
न्यूजवेव@ कोटा 

देशभर में प्रसिद्ध ऑनलाइन कोचिंग संस्थान ई-सरल (e-Saral) ने जेईई-मेन,2023 परीक्षा के सिलेबस का सम्पूर्ण रिवीजन मात्र 24 घंटे में पूरा कर शिक्षा नगरी में नया कीर्तिमान रच दिया। निदेशक डॉ एनके गुप्ता, प्रतीक गुप्ता एवं सारांश गुप्ता ने बताया कि देशभर के हजारों विद्यार्थियों की मांग पर जेईई-मेन परीक्षा से ठीक पहले फिजिक्स, केमिस्ट्री और मैथ्स के 105 चैप्टर का रिवीजन एक साथ करवाना असंभव सा कार्य था। लेकिन संस्थान के शिक्षकों ने इस चुनौती को स्वीकार कर इसे योजनाबद्ध ढंग से निरंतर 24 घंटे पढ़ाते हुये पूरा कर दिखाया।


ई-सरल संस्थान के सात अनुभवी शिक्षकों की टीम ने मंगलवार प्रातः 9 बजे से बुधवार प्रातः 9 बजे तक लगातार 24 घंटे ऑनलाइन लेक्चर देते हुये जेईई विद्यार्थियों की सबसे लम्बी क्लास ली। देशभर के लाखों विद्यार्थियों को मात्र 24 घंटे में तीनों विषयों के 105 चैप्टर का रिवीजन पूरा करवा दिया, जिसमें थ्योरी व न्यूमेरिकल दोनो तरह के प्रश्न शामिल हैं। उनके रिवीजन विडियो लेक्चर सत्र को 2 लाख से अधिक विद्यार्थियों ने सुनकर पेपर को हल करने की बारिकियां समझी। सत्र पूरा होने के बाद विद्यार्थियों ने बताया कि परीक्षा से पहले तीनों सब्जेक्ट के डाउट दूर हो जाने से हमारा आत्मविश्वास बहुत बढ़ गया है।
जेईई-मेन अप्रैल सत्र की परीक्षा 6 अप्रैल से
ई-सरल के तीनों आईआईटीयन निदेशक डॉ.एन.के.गुप्ता, प्रतीक गुप्ता एवं सारांश गुप्ता ने बताया कि जेईई-मेन (JEE Main 2023) अप्रैल सत्र परीक्षा 6 अप्रैल से सीबीटी मोड में शुरू हो रही है। एक दिन पहले पूरे सिलेबस का ऑनलाइन रिवीजन कर लेने से परीक्षार्थियों में 100 प्रतिशत कॉन्फिडेंस आ गया है। अब उनमें मुख्य पेपर हल करने का भय खत्म हो गया है। इस रिवीजन से सारे फार्मूले उनके टिप्स पर रहेंगे। उन्होंने बताया कि सालभर कोचिंग विद्यार्थी 90 मिनट की क्लास में लेक्चर सुनते हैं। यह पहला अनुभव था जब अपना सपना पूरा करने के लिये सभी विद्यार्थी एकाग्रता से 24 घंटे लगातार ऑनलाइन रिवीजन लेक्चर सुनते रहे। इससे जिस टॉपिक में वे कमजोर महसूस कर रहे थे, उनके सारे डाउट्स भाी दूर हो गये। परीक्षार्थियों को जेईई-मेन अप्रैल सत्र की परीक्षा में पहले से अच्छा स्कोर अर्जित करने का अवसर मिलेगा।

(Visited 220 times, 1 visits today)

Check Also

डॉ. हेमलता गांधी ने जन्मदिवस पर देहदान का संकल्प लिया

देहदान-संकल्प : हमारे ऋषिमुनियों से सीखें दान का महत्व, इसी भाव ने देहदान-संकल्प के लिए …

error: Content is protected !!