Friday, 19 July, 2024

चंबल की लहरों पर रोशनी बिखेर रहे रिवरफ्रंट के घाट

पर्यटकों को लुभायेगी पश्चिमी छोर पर नंदी, वैदिक,रोशन घाट की नैसर्गिग छटा
न्यूजवेव@कोटा

राजस्थान के कोटा शहर में नवनिर्मित दुनिया का पहला चंबल  रिवर फ्रंट देश-विदेश के सैलानियों के लिये नई सौगात होगा, जिसका उद्घाटन मुख्यमंत्री अशोक गहलोत अगले माह करेंगे। नगरीय विकास एवं स्वायत शासन मंत्री शांति धारीवाल की पहल पर चंबल नदी पर विकसित हेरिटेज रिवर फ्रंट के दोनों छोर पर थीम आधारित घाट लहरों पर अपनी खूबसूरती के रंग बिखेर रहे हैं। मंत्री धारीवाल प्रतिदिन इसकी अंतिम तैयारियों का जायजा ले रहे हैं।
नाइट टूरिज्म का हब बनेगा
नगर विकास न्यास ओएसडी आरडी मीणा ने बताया कि चंबल रिवर फ्रंट को नाइट टूरिज्म का बड़ा केंद्र बनाने के लिये इसके प्रत्येक घाट को रंगबिरंगी रोशनी से निखारा जा रहा है। न्यास सचिव राजेश जोशी ने बताया कि प्रत्येक घाट एवं मॉन्यूमेंट्स पर दिन-रात अंतिम चरण की तैयारियां चल रही हैं।
पश्चिमी छोर के घाटों की अद्भुत छटा
 नन्दी घाट – सकतपुरा मुक्तिधाम के सामने स्थित नन्दी घाट पर भारतीय शिल्प के अनुसार एक प्रांगण बनाया गया है जिसमें सेंड स्टोन की नन्दी की प्रतिमा स्थापित की गई है। यह भारत में नंदी की सबसे विशालकाय आकृति है ।
वैदिक घाट – बनारस के घाट की तर्ज पर हाड़ौती शिल्पकला से वैदिक घाट का निर्माण किया गया है जिसके पार्श्व में भारतीय मंदिर शिल्प के अनुसार भारतीय मंदिरों के शिखरों को एक अनुक्रम में सजाया गया है।
 रोशन घाट – कब्रिस्तान के सामने स्थित घाट पर ईस्लामिक आर्किटेक्चर के तहत फसाड का निर्माण किया गया है। इस घाट पर कई मशालें लगाई गई है जिनका प्रतिबिम्ब नदी में दिखाई दे रहा हैं ।

(Visited 201 times, 1 visits today)

Check Also

हर वर्ष एक लाख से अधिक लोग JOIN RSS से जुड़ रहे हैं

2024 में आयोजित प्रशिक्षण वर्गों में 24 हजार कार्यकर्ताओं ने लिया प्रशिक्षण, पुण्यश्लोक अहिल्या देवी …

error: Content is protected !!