Sunday, 16 June, 2024

कोरोना संक्रमण से बचाव के लिये वैदिक महायज्ञ

न्यूजवेव @ सुनेल 
कोेरोना महामारी की दूसरी लहर में सांसों एवं हवाओं के माध्यम से कोविड’-19 वायरस एक-दूसरे में फैलने से बडी संख्या में आम नागरिक इसकी चपेट में आ गये। इन दिनों सुनेल नगर के आसपास वायुमंडल को शुद्धि करने के उद्देश्य से आर्य समाज, सुनेल द्वारा अस्तर के बालाजी पर मंगलवार को विशाल वैदिक महायज्ञ का आयोजन किया गया।
आर्य समाज के प्रधान राजेंद्र प्रजापति ने कहा कि वैदिक काल से हमारा देश जगतगुरु रहा। विदेशी लोग हिंदू संस्कृति और वेदों को पढ़ने के लिए भारत में आते थे। चारों वेद मूलत‘ देवताओं की वाणी है। जनता को जागरूकता के साथ घर-घर में यज्ञ करना चाहिए। क्योंकि यज्ञ की ज्वाला से ऑक्सीजन बनती है। यह प्राणवायु कोरोना महामारी के संक्रमण से बचाव भी करती है।
आर्य समाज के मंत्री मनीष सोनी ने बताया कि महायज्ञ में परमपिता परमेश्वर से प्रार्थना की गई कि सर्वत्र कोरोनावायरस एवं ब्लैक फंगस जैसी महामारी का शीध्र अंत हो। मेहनतकश देशवासियों के बल पर हमारा राष्ट्र बलशाली सुखी संपन्न बने। यज्ञ हमारी पुरातन संस्कृति है। यज्ञ के माध्यम से हमारे ऋषि-महर्षियों ने बड़ी से बड़ी आपदाओं व समस्याओं का निदान किया है। रामायण व महाभारत में इसका उल्लेख मिलता है। वैदिक यज्ञ से हर मनोकामना पूर्ण होती है इसलिये हमें घर-घर में यज्ञ से हवा का शुद्धिकरण अवश्य करना चाहिए।
यज्ञ में समाजसेवी शिवकुमार गुप्ता, नंदलाल सोनी, दुर्गेश मेघवाल अमरलाल मेघवाल, वीरेंद्र सिंह सिसोदिया हरकचंद राठौड,़ गोविंद सोनी, राजेंद्र गुप्ता, रमेश राठौड़ ,हेमंत राठौड,़ धीरज गुप्ता, दुधा लाल माली सहित नगर के कई नागरिकों ने मंत्रोच्चार के साथ आहूतियां दी। इसी क्रम में सुनेल की चारों दिशाओं में महामारी से मुक्ति के लिए यज्ञ किए जाएंगे। अगले मंगलवार को लंकापति हनुमानजी प्रणाम रोड पर सुबह 8ः00 बजे यज्ञ का आयोजन होगा।

(Visited 386 times, 1 visits today)

Check Also

नव रचनाओं के लिए तैयार किए जाएंगे संघ कार्यकर्ता – निम्बाराम

राजस्थान क्षेत्र के तीनों प्रान्तों के स्वयंसेवकों का ‘कार्यकर्ता विकास वर्ग-प्रथम‘ का शुभारम्भ  न्यूजवेव @कोटा  …

error: Content is protected !!