Thursday, 30 May, 2024

दुनिया में रहना है तो एक दूसरे के सहयोगी बने – संत सुधा सागर जी महाराज

पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने महाराजश्री से लिया आशीर्वाद, कुबेर द्वार व कीर्ति स्तंभ का किया लोकार्पण
न्यूजवेव@ कोटा/खानपुर
पूर्व मुख्यमंत्री वसुधंरा राजे ने रविवार को चंद्रोदय तीर्थ क्षेत्र चांदखेडी जैन मंदिर खानपुर में पंचकल्याणक महोत्सव में पहुंचकर जैन संत सुधा साागर जी महाराज से आशीर्वाद प्राप्त किया वहीं कीर्ति स्तम्भ व 32 फीट ऊंचे शीशम की लकडी से बने कुबेर द्वार का लोकार्पण किया। उन्होंने कहा कि मेरा जीवन हमेशा गुरू चरणों में समर्पित रहा है, मैं संतों का आशीर्वाद पाकर अभिभूत हूं।


पंचकल्याणक महोत्सव में अपने प्रवचन में महाराजश्री ने कहा कि प्रकृति के सभी द्रव्य में स्वतंत्र शक्ति, सत्ता होने पर भी मेल है, सभी दृव्य स्वयं को उपकारी प्रस्तुत करते हैं। एक द्रव्य दूसरे द्रव्य को नियम से संकेत देता है, यदि दुनिया में रहना है तो एक दूसरे के सहयोगी बने।
उन्होंने कहा कि मूर्ख, अज्ञानी, जड़ चेतन कभी काबू में नहीं आएंगे, ज्ञानी, समझदार, संस्कारित से गलती भी होती है तो वह समझाने पर समझ जाते हैं। गलती सभी से होती है, किसे गलती का जल्दी एहसास होता है यह विशेष है। संसार में सभी से गलती होती है, क्रोध भी आता है, जैनआगम ने कहा जो भूल होती है तो भूल को स्वीकार कर करें, कसाय सर्वनाश करती है। उन्होंने कहा कि ऐसा मंत्र लीजिए जिसमें क्षमा जल्दी मांगी जाए, वह मोक्ष के द्वार पर जाएगा।
इस अवसर पर पूर्व मुख्यमंत्री वसुधंरा राजे ने कीर्ति स्तम्भ व 32 फीट ऊंचे शीशम की लकडी से बने कुबेर द्वार का लोकार्पण किया।उनके साथ झालावाड सांसद दुष्यंत सिंह, खानपुर विधायक नरेन्द्र नागर, जनअभाव अभियोग निराकरण समिति के पूर्व चेयरमैन श्रीकृष्ण पाटीदार, पूर्व कोटा उत्तर विधायक प्रहलाद गुंजल ने महाराजश्री से आशीर्वाद लिया।
क्षमा मांगने से स्वाभिमान मान में बदलेगा


महाराजश्री ने कहा कि जो पहले क्षमा मांगेगा उसका स्वाभिमान मान में बदलेगा। भूल को सुधारने में जितनी जल्दी हो उतना कल्याण होगा। जब तीर्थंकर जीवन छोड़ते हैं तो उनकी राख भी पवित्र होती है। कर्मों का दोष दुख देता है, सामने वाले की गलती को देखोगे तो क्रोध से तुम्हारा स्वरूप बिगड़ जाएगा। यदि कोई हमसे विपरीत भाव दुर्व्यवहार करेगा तो वह पूर्व जन्म का कर्म होगा। चन्द्रोदय तीर्थ क्षेत्र चांदखेडी जैन मंदिर खानपुर के अध्यक्ष हुकम जैन काका ने बताया कि रविवार को मोक्ष कल्याणक हुआ, इसमें जिन बिम्ब स्थापना से लेकर कलशारोहण सहित अन्य आयोजन हुए। श्रावकों ने मुनिसंघ के सानिध्य में धर्म लाभ प्राप्त किया।

(Visited 625 times, 1 visits today)

Check Also

कोटा में पहली बार निःशुल्क ‘नए दृष्टिकोण वाला’ शिविर 11 मई से

छह दिवसीय शिविर में शरीर व मन की शक्तियों को जागृत करने के अभ्यास व …

error: Content is protected !!