Tuesday, 25 June, 2024

युवक के चेहरे पर लकवा, जटिल सर्जरी से लौटाई मुस्कान

झालावाड के रोगी की महावीर ईएनटी हॉस्पिटल, कोटा में चिरंजीवी योजना से हुई दुर्लभ सर्जरी
न्यूजवेव@कोटा

एक 25 वर्षीय युवक को चेहरे पर अचानक लकवा हो जाने से उसका मुंह एक ओर से टेड़ा हो गया। उसने मेडिकल कॉलेज झालावाड में चिकित्सकों को दिखाया। उन्होंने कोटा में नाक कान गला विशेषज्ञ के पास रैफर कर दिया।
युवक विशाल ने महावीर नगर तृृतीय में महावीर ईएनटी हॉस्पिटल के निदेशक डॉ. विनीत जैन को दिखाया। उन्होंने जांच कर चिरंजीवी स्वास्थ्य योजना के तहत रोगी का ऑपरेशन कर दिया। सर्जरी के बाद विशाल का चेहरा बिल्कुल सामान्य हो जाने से उसकी मुस्कान लौट आई है।
विशाल ने बताया कि उसे ढाई साल से कान में मवाद हो जाने से दर्द रहता था, वह दर्द की दवा लेता था। लेकिन 15 दिन पहले अचानक उसे फेशियल पेरेलेसिस हो गया, जिससे एक ओर का मुंह टेडा हो गया था। बोलने व सुनने में भी दिक्कत होने लगी। लेकिन कोटा में ईएनटी विशेषज्ञ डॉ. विनीत जैन ने निःशुल्क सर्जरी कर उसे सारी खुशियां लौटा दी हैं। सामान्यतः इस जटिल ऑपरेशन पर 50 से 60 हजार रू खर्च होता है।
क्या है फेशियल नर्व पेरेलिसिस
डॉ. जैन ने बताया कि फेशियल नर्व पेरेलिसिस (Facial Nerve paralysis) ऐसा रोग है, जिसमें रोगी का चेहरा एक या दोनो ओर से सुन्न व टेडा हो जाता है। कई बार रोगी के चेहरे की मांसपेशियां स्थायी रूप से काम करना बंद कर देती है। ऐसा होने पर बोलने व देखने पर चेहरे के भाव व होठ के मूवमेंट भी बदल जाते हैं। रोगी को आंख खोलने व बंद करने में भी परेशानी के साथ कानों में भी लगातार आवाज आती रहती है। लेकिन समय पर रोगी की फेशियल नर्व डिकम्प्रेशन तकनीक से सर्जरी कर देने पर उसकी स्थिति सामान्य हो सकती है। विशाल की सर्जरी चिरंजीवी योजना में होने से उसे कोई खर्च वहन नहीं करना पडा।

(Visited 209 times, 1 visits today)

Check Also

कारगिल युद्ध में वीर शहीदों के शौर्य पर एलन द्वारा परिजनों का सम्मान

 शौर्य वंदन : कारगिल विजय के 25वें वर्ष पर एलन कॅरिअर इंस्टीट्यूट द्वारा देश में …

error: Content is protected !!