Wednesday, 8 April, 2020

पहली बार अमेरिका में होगी जेईई-एडवांस्ड परीक्षा, कोटा में सेंटर नहीं

जेईई-एडवांस्ड परीक्षा 17 मई,2020 को  
न्यूजवेव @ नईदिल्ली/कोटा

आईआईटी दिल्ली द्वारा संचालित जेईई-एडवांस्ड,2020 परीक्षा 17 मई,2020 को आयोजित की जायेगी। सीबीटी मोड में इसका पेपर-1 प्रातः 9 से 12 बजे तथा पेपर-2 दोपहर में 2ः30 से 5ः30 बजे तक होगा। आईआईटी की सर्वोच्च संस्था ज्वाइंट एडमिशन बोर्ड (JAB) की बैठक में निर्णय लिया गया कि पहली बार जेईई-एडवांस्ड का परीक्षा केंद्र यूएसए के सेन फ्रांसिस्को में भी खोला जायेगा।

आईआईटी दिल्ली के निदेशक प्रो. रामगोपाल राव ने बताया कि देश की सभी 23 आईआईटी में प्रवेश के लिये विदेश में अब तक 6 सेंटर थे, इस वर्ष अमेरिका में भी सेंटर खोलने का निर्णय लिया गया है। चूंकि देश के कई आईआईटी एलुमिनी यूएसए में उच्च पदों पर कार्यरत हैं, वहां सेंटर खोलने से आईआईटी की साख बढे़गी।
श्रीलंका व इथोपिया से हटाये सेंटर, यूएसए में होगी परीक्षा
जेईई-एडवांस्ड,2020 के चेयरमेन प्रो. सिद्धार्थ पांडे के अनुसार, वर्ष 2019 में इस प्रवेश परीक्षा के लिये विदेश में 6 शहरों दुबई, ढाका, अदिस अबाबा (इथोपिया), काठमांडु, कोलम्बो (श्रीलंका), सिंगापुर में सेंटर बनाये गये थे लेकिन जेईई-एडवांस्ड,2020 के लिये विदेश में श्रीलंका व इथोपिया से परीक्षा केंद्र हटा लिये गये हैं क्योंकि दोनों शहरों में इसके परीक्षार्थी नहीं थे। जबकि पहली बार अमेरिका में इसका परीक्षा केंद खोला गया है। इस तरह अब 5 देशों में यह परीक्षा होगी। प्रो.पांडे ने बताया कि पेपर-2 आधा घंटा पहले दोपहर 2 बजे से शुरू किया जायेगा, जिससे दिव्यांग परीक्षार्थियों को बायोमेट्रिक वेरिफिकेशन में कोई असुविधा न हो।
10 हजार स्टूडेंट ज्यादा क्वालिफाई होंगे
जेईई-एडवांस्ड,2019 के लिये 2.40 लाख परीक्षाार्थियों को जेईई-मेन से क्वालिफाई घोषित किया गया था, लेकिन जेईई-एडवांस्ड,2020 में इससे सभी केटेगरी के 10 हजार अधिक परीक्षार्थियों अर्थात् 2.50 लाख को शार्टलिस्ट किया जायेगा। वर्ष 2019 में 1,61,319 स्टूडेंट्स ने जेईई-एडवांस्ड,2019 परीक्षा दी थी, जिसमें से 38,705 परीक्षार्थी काउसंलिंग के लिये चयनित हुये थे।
कोटा में सेंटर की बहाली क्यों नहीं

एजुकेशन सिटी कोटा के शिक्षाविदों व कोचिंग संचालकों ने जेईई-एडवांस्ड,2020 के लिये कोटा में परीक्षा केंद्र बहाल करने की आवाज उठाई है। प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महासचिव पंकज मेहता ने कहा कि देश में सर्वाधिक परीक्षार्थी होने के बावजूद कोटा में इसका सेंटर क्यों नहीं खोला जा रहा है। अमेरिका से पहले कोटा को प्राथमिकता दी जानी चाहिये। उन्होंने लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला से मांग की कि वे अपने निर्वाचन क्षेत्र की छवि सुधारने के लिये जेईई-एडवांस्ड,2020 का सेंटर खुलवाने का प्रयास करें। कोटा कोचिंग में 50 हजार से अधिक विद्यार्थी जेईई-मेन की तैयारी कर रहे हैं। सीबीटी मोड में होने वाली जेईई-मेन का सेंटर यहां होने के बावजूद एडवांस्ड परीक्षा का सेंटर घोषित क्यों नहीं किया जा रहा है।

(Visited 55 times, 1 visits today)

Check Also

IIT Guwahati develops low-cost UVC LED system to amid COVID-19

Navneet Kumar Gupta Newswave @New Delhi Indian Institute of Technology Guwahati has developed a low-cost …

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: